Chandigarh BJP chief wants campus land to run langar, PGI says no-चंडीगढ़: रिसर्च इंस्‍टीट्यूट में लंगर चलाना चाहते हैं बीजेपी प्रमुख, PGI ने नहीं दी इजाजत - Jansatta
ताज़ा खबर
 

चंडीगढ़: रिसर्च इंस्‍टीट्यूट में लंगर चलाना चाहते हैं बीजेपी प्रमुख, PGI ने नहीं दी इजाजत

चंडीगढ़ बीजेपी के अध्यक्ष संजय टंडन ने मरीजों के लिए पीजीआई में लंगर सेवा शुरू करने के लिए जमीन की मांग की तो प्रशासन ने मना कर दिया।

Author नई दिल्ली | May 20, 2018 6:43 PM
चंडीगढ़ बीजेपी के अध्यक्ष संजय टंडन

चंडीगढ़ बीजेपी के अध्यक्ष संजय टंडन ने मरीजों के लिए पीजीआई में लंगर सेवा शुरू करने के लिए जमीन की मांग की तो प्रशासन ने मना कर दिया।पीजीआई अधिकारियों ने जमीन की अनुपलब्धता का हवाला दिया। संजय टंडन ने बताया कि इंस्टीट्यूट ने उनके एनजीओ को जमीन उपलब्ध कराने से इन्कार किया मगर बैठकों में यह जरूर भरोसा दिया कि एक विशेष क्षेत्र विकसित किया जाएगा, जहां मरीजों और तीमारदारों को भोजन वितरित किया जा सके।

टंडन ने बताया कि उन्होंने कैंपस में जमीन का एक टुकड़ा मांगा था, जहां टिन शेड रखकर भोजन पकाने और वितरण की व्यवस्था हो, जिसके जवाब में पीजीआई ने कहा कि जमीन की उपलब्धता में कठिनाई है और साथ ही तमाम आपत्तियां भी उठेंगे।उन्होंने कहा कि चर्चा चल रही है और पीजीआई ने भूमि के किसी भी तरह के हस्तांतरण से इन्कार कर दिया। लेकिन कैंपस के अंदर एक जगह से भोजन वितरण की संभावनाएं पर चर्चा की है।

यह स्थान अन्य स्वयंसेवी संस्थाओं के लिए समान रूप से उपलब्ध रहेगा। पीजीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि विकासीय परियोजनाओं के लिए हम खुद जमीन के संकट का सामना कर रहे हैं, इस नाते किसी को जमीन उपलब्ध कराना संभव नहीं है। कुछ प्रोजेक्ट्स के लिए पीजीआई ने शासन से जमीन की मांग की है। चंडीगढ़ भाजपा के अध्यक्ष ने कहा कि अगर पीजीआई प्रशासन उन्हें जमीन नहीं उपलब्ध कराता है तो उन्हें कोई दिक्कत नहीं है। वह तो सिर्फ मरीजों को मुफ्त में भोजन देना चाहते हैं।शुरुआत में कम से कम पांच सौ मरीजों को भोजन देने का इरादा है।अब तक पीजीआई के साथ लंगर के स्थान के लिए आठ बैठकें हो चुकी हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App