ताज़ा खबर
 

अफसर की बेटी की शादी, मेहमानों को रास्ता दिखाने के लिए तैनात किए BSF जवान

बीएसएफ के एक जवान ने कहा कि जम्मू के अलावा बैंगलुरु, राजस्थान और गुजरात से भी जवान यहां शादी की ड्यूटी में शरीक होने आए थे।

BSF ने कहा है कि जवानों की तैनाती प्रोटोकॉल के तहत की गई है। (Express Photo)

देश की सीमा की सुरक्षा के लिए तत्पर रहने वाले बीएसएफ जवानों को रविवार (19 नवंबर) को एक अलग तरह की ड्यूटी करनी पड़ी। चंडीगढ़ में एक रिजॉर्ट के नजदीक ये बीएसफ जवान वर्दी में सड़क पर खड़े थे और वहां से गुजरने वाले वीआईपी गेस्ट को रास्ता दिखा रहे थे। दरअसल ये मौका था बीएसएफ के आईजी पी एस संधु की बेटी के शादी का। चंडीगढ़ के नयागांव के पास सड़क पर खड़े बीएसएफ जवानों का काम इस शादी में पहुंचने वाले वीआईपी लोगों को फॉरेस्ट हिल रिजॉर्ट का रास्ता दिखाना था। इस शादी में बीएसएफ के डीजी के के शर्मा भी शामिल हुए। इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक कई लोगों रिजॉर्ट के अंदर भी तैनात किया गया था। एक बीएसएफ जवान ने बताया कि वह और उसके 15 साथी जम्मू स्थित बीएसएफ के लखनपुर कैंप से यहां शादी की इस ड्यूटी को करने आए हैं।

इस शादी में बीएसएफ जवानों के अलावा पंजाब पुलिस की भी ड्यूटी लगाई गई थी। पंजाब पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि उनके 25 साथी इस ड्यूटी के लिए आए हैं। एसएएस नगर के एसएसपी कुलदीप चहल ने बताया कि पंजाब पुलिस के जवानों की तैनाती आधिकारिक ड्यूटी के तहत की गई थी क्योंकि इस शादी में कई वीआईपी आए थे। बीएसएफ के एक जवान ने कहा कि जम्मू के अलावा बैंगलुरु, राजस्थान और गुजरात से भी जवान यहां शादी की ड्यूटी में शरीक होने आए थे। वर्दी में शादी की ड्यूटी के लिए बीएसएफ के जवानों की तैनाती पर आईजी संधु से अबतक कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली है।

हालांकि प्रदीप शर्मा नाम के बीएसएफ के अधिकारी ने बताया कि बीएसएफ जवानों की तैनाती प्रोटोकॉल के तहत की गई थी। इस अधिकारी ने कहा कि चूंकि कार्यक्रम में बीएसएफ डीजी के के शर्मा शरीक हुए थे इस वजह से प्रोटोकॉल का पालन जरूरी था। शाम चार बजे बीएसएफ की एक गाड़ी से ड्यूटी में लगे जवानों को खाना पहुंचाया गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App