ताज़ा खबर
 

बलात्कारी बाबा राम रहीम के समर्थन में BJP MP, कहा- भारतीय संस्कृति को बदनाम करने की साजिश

Dera Sacha Sauda, Ram Rahim Singh: साक्षी महाराज ने कहा कि राम रहीम पर एक महिला ने यौन शोषण के आरोप लगाये हैं, लेकिन उनके पीछे करोड़ों लोग खड़े हैं उनकी आवाज क्यों नहीं सुनी जा रही है।

पंचकुला में वाहनों में आग लगा दी गई (फोटो-पीटीआई)

साध्वी से रेप के दोषी राम रहीम के समर्थन में बीजेपी के सांसद साक्षी महाराज आ गये हैं। साक्षी महाराज ने कहा है कि भारत की संस्कृति को बदनाम करने की साजिश हो रही है। साक्षी महाराज ने कहा कि राम रहीम पर एक महिला ने यौन शोषण के आरोप लगाये हैं, लेकिन उनके पीछे करोड़ों लोग खड़े हैं उनकी आवाज क्यों नहीं सुनी जा रही है। उन्होंने कहा कि अगर इससे भी बड़ी कोई वारदात होती है तो इसके लिए सिर्फ डेरा के समर्थक ही जिम्मेदार नहीं होंगे बल्कि अदालत भी जिम्मेदार होगी। उन्होंने कहा कि योजनाबद्ध तरीके से भारतीय संस्कृति को बदनाम करने की साजिश हो रही है। साक्षी महाराज ने कहा कि साधु संन्यासियों को बदनाम करने के लिए षड़यंत्र किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कुछ लोगों की अस्मिता खतरे में है इसलिए साजिश रची जा रही है।

बता दें कि पीएम नरेन्द्र मोदी ने हरियाणा में हिंसा की कड़ी निंदी की है। मोदी ने कहा है कि 25 अगस्त को हुई हिंसा की घटना बेहद दुखदायी और निंदनीय है। पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा कि मैं इस हिंसा की निंदा करता हूं और सभी लोगों से शांति बनाए रखने की अपील करता हूं। पीएम ने कहा कि वे पूरी घटना पर लगातार निगरानी रख रहे हैं, और राष्ट्रीय सुरक्षा सुलाहकार और गृह सचिव से बात की है। पीएम ने कहा कि उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि लगातार काम कर माहौल को सामान्य बनाएं।

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को दुष्कर्म मामले में अदालत द्वारा दोषी ठहराए जाने के बाद उनके नाराज भक्त हिंसा पर उतर आए हैं। यहां समर्थकों को काबू में करने के लिए सुरक्षा बलों द्वारा की गई गोलीबारी में 30 लोगों की मौत हो गई। हिंसा में सुरक्षा कर्मियों सहित 100 लोग घायल हुए हैं।  पुलिस सूत्रों ने कहा कि सुरक्षा बलों ने डेरा समर्थकों को काबू में करने के लिए गोली चलाई, जिसमें 30 की मौत हो गई। डेरा समर्थकों ने व्यापक तोड़फोड़ की और कई वाहनों व भवनों में आग लगा दी। डेरा समर्थकों ने पत्रकारों और सुरक्षा बलों पर हमले किए। कुछ पत्रकार जान बचाने के लिए नजदीकी घरों में शरण लेने को मजबूर हुए। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि हिंसा में सुरक्षाबलों सहित 100 लोग घायल हुए हैं। करीब 100 वाहनों में आग लगा दी गई। कई सरकारी और निजी भवनों में आग लगा दी गई। स्थानीय निवासियों का कहना है कि शहर के हिस्सों में धुएं का गुबार देखा गया।निषेधाज्ञा का उल्लंघन करते हुए डेरा समर्थक डेरा प्रमुख के दुष्कर्म मामले में फैसले के मद्देनजर पंजाब और हरियाणा से हजारों की संख्या में शहर में जुटे थे। फैसला राम रहीम के खिलाफ आते ही वे हिंसा पर उतारू हो गए। सीबीआई की विशेष अदालत ने राम रहीम को दो महिला शिष्याओं से दुष्कर्म और छेड़छाड़ के मामले में दोषी ठहराया है। राम रहीम पर वर्ष 2002 में दो साध्वियों से दुष्कर्म करने का आरोप है। इस मामले की अदालत में सुनवाई 2008 में शुरू हुई थी।

Next Stories
1 राम रहीम को भरना होगा नुकसान का हर्जाना, कोर्ट ने मांगा डेरा सच्चा सौदा की संपत्तियों का ब्यौरा
2 न कानून का ल‍िहाज, न गोल‍ियों का डर: वीड‍ियो में देख‍िए, कैसे हत्‍यारे, उन्‍मादी बने राम रहीम समर्थक
3 राम रहीम बलात्कारी करार: अटल बिहारी को लिखी इसी चिट्ठी से अंजाम तक पहुंचा केस
ये पढ़ा क्या?
X