ताज़ा खबर
 

पति के मंत्री होने का गलत फायदा उठा रहीं नवजोत सिंह सिद्धू की पत्‍नी!

नवजोत कौर पिछली विधानसभा में भाजपा विधायक थीं। उनकी पति नवजोत सिद्धू भी भाजपा में थे। बाद में उन्होंने पति संग भाजपा छोड़ दी और विधानसभा चुनाव से ठीक पहले दोनों कांग्रेस में शामिल हो गए।

नवजोत सिंह सिद्धू। (image source-Facebook)

क्रिकेटर से राजनेता बने पंजाब सरकार में कैबिनेट मिनिस्टर नवजोत सिंह सिद्धू एक बार फिर विवादों में फंस गए हैं। दरअसल सिद्धू ने पिछले दिनों एक सरकारी अधिकारी को पद से बर्खास्त किया था लेकिन उनकी पत्नी ने इस आदेश पर रोक लगाने वाले पत्र को संबंधित अधिकारी को सौंप दिया। ऐसा तब है जब सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर पंजाब सरकार में किसी पद पर नहीं हैं। जानकारी के मुताबिक सिद्धू ने साल 2017 में नगर निगम की पूरी जांच के बाद सरकारी अधिकारी को व्यक्तिगत रूप से बर्खास्त कर दिया था। मामले में विपक्ष ने सिद्धू के ऑफिस में नवजोत कौर का शासन होने का आरोप लगाया है। विपक्ष ने यह भी आरोप लगाया कि सिद्धू की पत्नी, पति के मंत्री होने का गलत फायदा उठा रही हैं। इसके अलावा विपक्ष ने तंज पर लहजे में पूछा कि किस अधिकार के साथ उन्होंने सरकारी अधिकारी को लेटर सौंपा। आरोप लगाया कि सिद्धू कॉमेडी शॉ करने में व्यस्त हैं जबकि उनकी पत्नी ऑफिस का काम संभाल रही हैं।

एक न्यूज चैनल ने सिद्धू के आवास पर पहुंचकर मामले में उनके पक्ष जानना चाहा तो बताया कि वह अभी आराम कर रहे हैं और किसी भी तरह की बातचीत के लिए उपस्थित नहीं हो सकते हैं। हालांकि बाद में नवजोत कौर ने बताया कि उन्होंने फाइलों के साथ कोई छेड़छाड़ नहीं की। वह सरकार और राजनीतिक लोगों के बीच सुलह कराने के लिए पब्लिक सर्वेंट होने के नाते ऑफिस पहुंची थीं। उन्होंने कहा कि हर समय मंत्री से मिलना मुमकिन नहीं हैं क्योंकि वो हर रोज 200 से 300 लोगों से मुलाकात करते हैं। उनके पास कोई काम नहीं था तो वह दो दिन के लिए यहां आई थीं। बता दें कि नवजोत कौर पिछली विधानसभा में भाजपा विधायक थीं। उनकी पति नवजोत सिद्धू भी भाजपा में थे। बाद में उन्होंने पति संग भाजपा छोड़ दी और विधानसभा चुनाव से ठीक पहले दोनों कांग्रेस में शामिल हो गए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App