ताज़ा खबर
 

पंजाब में अनोखी शादी, सिर पर सेहरा बांध और घोड़ी चढ़कर पहुंची दुल्हन तो दूल्हे ने मेहंदी रचाई फिर शादी कर विदा हुआ दुल्हन के घर

इस शादीशुदा जोड़े का नाम सुखमिंदर सिंह और बलजीत कौर है। 26 फरवरी को दोनों की शादी का कार्यक्रम था।

मीट खाने को लेकर बीवी ने मांगा तलाक। (Representative Image)

वैसे तो अक्सर यही देखा जाता है कि दूल्हा दुल्हन के घर बारात लेकर जाता है और शादी हो जाने के बाद दुल्हन अपने परिवार से विदा होकर दूल्हे के घर आकर अपना पूरा जीवन गुजारती है लेकिन पंजाब में एक ऐसी शादी हुई है जहां पर दूल्हे के घर दुल्हन बारात लेकर पहुंची है। यह मामला पंजाब के बठिंडा का है, जहां पर दुल्हन सेहरा बांधकर, घोड़ी चढ़कर दूल्हे के घर बारात लेकर पहुंची। इतना ही नहीं शादी की प्रक्रिया पूरी हो जाने के बाद दूल्हा अपने परिवार से विदा लेकर दुल्हन के घर गया। इस शादीशुदा जोड़े का नाम सुखमिंदर सिंह और बलजीत कौर है। 26 फरवरी को दोनों की शादी का कार्यक्रम था।

शादी वाले दिन बलजीत कौर का पूरा परिवार सुखमिंदर के घर बारात लेकर पहुंचा। वहां पर उनका उसी तरह स्वागत किया गया जैसे कि अन्य शादियों में दूल्हे के परिवार का किया जाता है। जिस प्रकार दूल्हे के साथ दुल्हन का परिवार रस्में निभाता है उसी तरह सुखमिंदर के परिवार ने बलजीत के साथ शादी की रस्में निभाईं। इसके बाद दोनों की शादी हो गई और दूल्हे ने दुल्हन का सरनेम अपनाया और साथ में वादा भी किया कि वह अबसे अपनी पत्नी के साथ उसके घर में  ही रहेगा। जिस तरह विदाई के समय दुल्हन अपने परिवार से गले लग कर रोती है, उसी तरह सुखमिंदर भी रोया और इसके बाद वह विदा होकर बलजीत के घर चला गया। इस शादी के बाद आनेवाली पूरी पीढ़ी का नाम लड़की के परिवार से ही चलेगा।

इस बारे में बात करते हुए दुल्हन बलजीत ने कहा कि मैं एक बुटीक चलाती हूं। मेरी चार बड़ी बहनें हैं और मेरा एक भाई भी था लेकिन उसकी मृत्यु हो चुकी है। बहनों की शादी के बाद अपने माता-पिता की सेवा करना मेरा धर्म है, इसलिए हमने ऐसे शादी की है जिससे कि मैं अपने माता-पिता का ख्याल रख सकूं। आपको बता दें कि यह शादी डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख बाबा गुरमीत राम रहीम की मौजूदगी में हुई। इस प्रकार की शादियां डेरा सच्चा सौदा द्वारा चलाए जा रहे 127 मानवता अभियान का एक हिस्सा हैं।

देखिए वीडियो - ‘फिलौरी’ ट्रेलर रिव्यू: ऐसी सुंदर भूतनी पहले कभी नहीं देखी होगी

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App