scorecardresearch

विधायकों की खरीद फरोख्त मामले में पंजाब पुलिस ने की FIR, 11 विधायकों ने लगाया था बीजेपी पर आरोप

Punjab Police: आम आदमी पार्टी ने दावा किया कि भाजपा ने पंजाब में उसके10 विधायकों को 25-25 करोड़ रुपये की पेशकश की थी।

विधायकों की खरीद फरोख्त मामले में पंजाब पुलिस ने की FIR, 11 विधायकों ने लगाया था बीजेपी पर आरोप
पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान। (Photo- Indian Express File)

Punjab Government: पंजाब पुलिस ने बुधवार (14 सिंतबर, 2022) को आम आदमी पार्टी की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया है। आप ने आरोप लगाया था कि भाजपा उनके विधायकों को रिश्वत देने की कोशिश कर रही है। आप ने भाजपा द्वारा सरकार गिराने के प्रयास के आरोपों की भी जांच की मांग की है।

सत्तारूढ़ दल आम आदमी पार्टी ने दावा किया कि भाजपा ने कम से कम उसके 10 विधायकों को 25-25 करोड़ रुपये की पेशकश की थी। वहीं राज्य भाजपा पहले ही आरोपों को निराधार और झूठ का बंडल करार दे चुकी है।

पंजाब के वित्त मंत्री हरपाल सिंह चीमा ने आप के 11 विधायकों के साथ चंडीगढ़ में डीजीपी गौरव यादव से आज मुलाकात कर इसकी शिकायत की थी। आप का आरोप है कि बीजेपी ने उसके 10 विधयाकों से फोन पर संपर्क कर पार्टी में शामिल होने के लिए 25 करोड़ रुपए का ऑफर दिया है।

मंगलवार (13 सिंतबर, 2022) को चीमा ने एक प्रेस वार्ता के दौरान कहा था कि दिल्ली और पंजाब के बीजेपी नेताओं और एजेंटों ने ‘ऑपरेशन लोटस’ के तहत कम से कम 10 आप विधायकों से फोन पर संपर्क किया है। उन्होंने आरोप लगाया, “बीजेपी इन विधायकों की ‘बाबू जी’ के साथ बैठकें आयोजित करने की पेशकश कर रही है और राज्य में भाजपा की सरकार बनने के बाद उन्हें कैबिनेट मंत्री पद देने का वादा भी कर रही है।”

आप का दावा है कि भारतीय जनता पार्टी ने विधायक शीतल अंगुरल, दिनेश चड्ढा, रमन अरोड़ा, बुद्ध राम, कुलवंत पंडोरी, नरिंदर भारज, रजनीश दहिया, मंजीत बिलासपुर और लाभ सिंह उगाके को पैसे की पेशकश की। इतना ही नहीं बीजेपी पर जान से मारने की धमकी देने का भी आरोप लगाया गया है। पंजाब वित्त मंत्री ने कहा कि जालंधर की विधायक शीतल अंगुरल को जान से मारने की धमकी दी गई थी।

केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए चीमा ने कहा था कि भाजपा पंजाब में एक सीरियल किलर के रूप में काम कर रही है और पंजाब में आप सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए राष्ट्र विरोधी शक्तियां शामिल हो गई है, क्योंकि वे मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाले गतिशील कामकाज को पचा नहीं पा रहे हैं। हालांकि, भारतीय जनता पार्टी आप के इन तमाम आरोपों को सिरे से खारिज कर रही है। भाजपा का कहना है कि आप अपनी शासन विफलताओं से जनता का ध्यान हटाने की कोशिश कर रही है।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 14-09-2022 at 10:53:07 pm