ताज़ा खबर
 

लॉकडाउन में लिंचिंग: शराब नहीं मिलने पर गुस्‍साए चार लोगों ने दुकान के कर्मचारी को पीट-पीट कर मार डाला

देशभर में इस महीने की शुरुआत में ही शराब की बिक्री की इजाजत दे दी गई थी, इसके बाद से ही शराब की दुकानों पर लोगों की भीड़ जुटना शुरू हो गई।

यूपी में वीकेंड लॉकडाउन के दौरान भी खुलेंगी शराब की दुकानें।

देश में कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों के बावजूद केंद्र और राज्य सरकारों ने इस महीने की शुरुआत में ही शराब विक्रेताओं को बिक्री शुरू करने की अनुमति दे दी। इसके बाद से ही लगभग हर रोज लोगों की भारी भीड़ को शराब की दुकानों के बाहर जुटते देखा जा रहा है। इस दौरान कई जगहों पर लोगों के बीच झगड़े की घटनाएं सामने आ चुकी हैं। ताजा मामला पंजाब के लुधियाना का है। यहां चार लोगों ने मिलकर शराब की दुकान में काम करने वाले एक कर्मचारी को इसलिए मार दिया, क्योंकि उसने उन्हें शराब देने से इनकार कर दिया था।

न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, बुधवार को लुधियाना से 25 किलोमीटर दूर कड्डोन गांव में बुधवार को यह घटना हुई। पुलिस का कहना है कि दोषियों की पहचान हो गई है, लेकिन अभी उन्हें गिरफ्तार नहीं किया जा सका है। दोराहा पुलिस स्टेशन में हत्या का केस दर्ज किया गया है।

इससे पहले पंजाब के ही पटियाला में एक शराबी ने शराब पीने के बाद अपनी ही पत्नी को पीटना शुरू कर दिया। शोर सुनकर जब पड़ोसी बचाने आए, तो नशेड़ी ने कहा कि पत्नी मेरी है। मैं पीटूं या मार डालूं तुम्हें क्या। और इतना कहने के बाद पत्नी और बच्चों को फिर से पीटने लगा। जब पड़ोसियों ने उशे रोकने की कोशिश की तो शराबी आग बबूला हो गया और घर से सिलेंडर बाहर लाकर उसमें आग लगा दी। इसके बाद उसने सिलेंडर सड़क पर रख दिया। हालांकि, लोगों ने सतर्कता दिखाते हुए सिलेंडर में लगी आग बुझा दी।

लॉकडाउन 5.0 पर जल्द हो सकता है फैसला, पढ़ें क्या होंगी गाइडलाइंस

गौरतलब है कि पंजाब में कोरोना के अब तक 2139 केस सामने आ चुके हैं और 40 लोगों की जान गई है। राज्य में अभी अमृतसर में सबसे ज्यादा 347 केस मिले हैं, जबकि जालंधर में 230 और लुधियाना में 176 केस सामने आए हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 अब पंजाब में बड़ा खतरा, स्वर्ण मंदिर के पूर्व ‘हजूरी रागी’ की कोरोना वायरस से मौत, 100 लोगों की सभा में किया था कीर्तन
ये पढ़ा क्या?
X