ताज़ा खबर
 

Punjab: बकाया था 214 करोड़ रुपए का बिल, बिजली विभाग ने काट दी दर्जनों पुलिस स्टेशनों की लाइन; मोमबत्ती जलाकर हो रहा काम

पंजाब बिजली विभाग का कहना है कि राज्य में ऐसे कई विभाग हैं, जिनका कई महीनों का बकाया जमा नहीं किया गया है। इससे विभाग पर आर्थिक दबाव पड़ रहा है।

लुधियानापंजाब के लुधियाना में थाने की बिजली काट दी गई (फोटो सोर्स- एएनआई)

पंजाब बिजली विभाग ने बकाया धनराशि नहीं जमा करने पर लुधियाना के 10 से 14 थानों का कनेक्शन काट दिया है। इसकी वजह से थाने में अंधेरा छाया हुआ है। पुलिसकर्मियों को अंधेरे में मोबत्ती जलाकर काम करना पड़ रहा है। बिजली विभाग का कहना है कि पुलिस विभाग से बकाया धनराशि नहीं जमा कराई जा रही है। इससे उनका बकाया काफी ज्यादा हो गया है। पंजाब के 51 सरकारी विभागों पर बिजली विभाग के करीब 214 करोड़ रुपए बकाए  हैं।

नई दरों के लिए रिव्यू पेटीशन : दूसरी तरफ पंजाब स्टेट पॉवर कॉरपोरेशन लिमिटेड ने बिजली दरों में संशोधन के लिए स्टेट इलेक्ट्रिसिटी रेगुलेटरी कमीशन को रिव्यू पेटीशन भेजा है। इससे बिजली दरों के बढ़ने की संभावना है। राज्य के उपभोक्ताओं को दरें बढ़ने पर अधिक पैसे चुकाने पड़ेंगे। पंजाब बिजली विभाग का कहना है कि राज्य में ऐसे कई विभाग हैं, जिनका कई महीनों का बकाया जमा नहीं किया गया है। इससे विभाग पर आर्थिक दबाव पड़ रहा है।

Hindi News Today, LIVE Updates: दिन भर की बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

मई में दरें संशोधित की गई थी : राज्य में मई महीने में बिजली दरों मं संशोधन किया गया था। इससे उपभोक्ताओं को बिजली खर्च की ज्यादा कीमतें चुकानी पड़ रही हैं। स्टेट इलेक्ट्रिसिटी रेगुलेटरी कमीशन ने वित्त वर्ष 2019-20 के लिए सभी श्रेणियों में बिजली की दरों में 2.14 प्रतिशत की औसत वृद्धि की घोषणा की थी। इधर, कमीशन ने घरेलू श्रेणी के उपभोक्ताओं के लिए निर्धारित शुल्क को भी 10 रुपये प्रति किलोवॉट कर दिया है।

आर्थिक बोझ बढ़ने से संकट : अब नए सिरे से बिजली दरें बढ़ाने की सिफारिश की गई है। इसको लेकर विभाग अपना बकाया रकम वसूलने के लिए अभियान तेज कर दिया है। विभाग का कहना है कि पुलिस विभाग पर बकाया रकम काफी ज्यादा हो गया है। रकम नहीं जमा होने से बिजली विभाग आर्थिक संकट से गुजर रहा है। इसी वजह से थानों की बिजली आपूर्ति काटी गई है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
यह पढ़ा क्या?
X