ताज़ा खबर
 

वीडियो: आप एमएलए ने एडीसी को दफ्तर में दिखाई धौंस तो अफसर ने दिया करारा जवाब

पंजाब के फरीदकोट के मिनी सचिवालय में बुधवार (7 मार्च) की सुबह आम आदमी पार्टी के विधायक और एक प्रशासनिक अधिकारी के बीच कहासुनी का मामला सामने आया है। इस कहासुनी का वीडियो आप विधायक की फेसबुक प्रोफाइल से शेयर किया गया है।

आप विधायक और एडीसी का फेसबुक वीडियो से लिया गया स्क्रीनशॉट।

पंजाब के फरीदकोट के मिनी सचिवालय में बुधवार (7 मार्च) की सुबह आम आदमी पार्टी के विधायक और एक प्रशासनिक अधिकारी के बीच कहासुनी का मामला सामने आया है। इस कहासुनी का वीडियो ‘आम आदमी पार्टी संगरूर पंजाब’ नाम की फेसबुक प्रोफाइल से शेयर किया गया है। वीडियो में आप विधायक और प्रशासनिक अधिकारी के बीच तीखी बहस होती दिखाई देती है। स्थानीय मीडिया के अनुसार कोटकपुरा से आप विधायक कुलतार सिंह संधवां अपने समर्थकों के साथ आईएएस अधिकारी एडीसी केशव हिंगोनिया के पास मनरेगा मजदूरों से जुड़ी शिकायत लेकर पहुंचे थे। आप विधायक का कहना है कि मनरेगा योजना में घपला किया जा रहा है। आप विधायक कुलतार सिंह ने अधिकारी से कहा कि कुछ लोगों को बिना काम किए मनरेगा का पैसा मिल रहा है जबकि कुछ मेहनत करने वाले इससे वंचित हो रहे हैं। आप विधायक पर आरोप है मनरेगा में गड़बड़ी का ज्ञापन सौंपने के दौरान उन्होंने अधिकारी से रौब में बात की।

वीडियो में आप विधायक कहते हुए दिखाई दे रहे हैं कि कुछ लोगों को मनरेगा का पैसा घर बैठे मिल जाता है, लेकिन कुछ गरीब लोग काम कर रहे हैं, उन्हें नहीं मिल रहा है। उन्होंने आगे कहा कि सरकार मांगने नहीं आई, आप मेरे अधिकारी है। इस पर एडीसी कहते हैं कि आप मेरी सरकार नहीं हैं। करतार सिंह कहते हैं कि हां, मैं सरकार हूं। एडीसी फिर कहते हैं कि आप सरकार नहीं हैं। एडीसी कहते हैं कि आप सरकार नहीं है, आप बस एक विधायक हैं। इसके बाद एडीसी कहते हैं कि जिला स्तर पर डीसी सरकार का प्रतिनिधि होता है। इसके बाद विधायक की आवाज तेज होती है और एडीसी उनसे कहते हैं कि तेज आवाज में बात न करें। फिर एडीसी विधायक से कहते हैं कि वह बाहर जाकर चिल्लाएं। आप नेता और समर्थक मौके पर ही नारेबाजी करने लगते हैं।

खबरों के मुताबिक आप विधायक जब डीसी दफ्तर पहुंचे तो एडीसी अधिकारियों के संग बैठक बीच में ही छोड़कर उनसे बात करने आए थे। विधायक ज्ञापन सौंपते वक्त फोटो खिंचाना चाहते थे, लेकिन अधिकारी ने उन्हें अदालत परिसर में बुलाया। दोनों में मनरेगा पर बात हुई, लेकिन अहम के टकराव के चलते बात बिगड़ गई।

आप विधायक कुलतार सिंह रंधावा ने कहा कि एडीसी ने उनकी बात सुनने के बजाय उनसे गलत तरीके से पेश आए और दुर्व्यवहार किया। उन्होंने मुख्य सचिव से अधिकारी की शिकायत करने की बात कही। वहीं एडीसी केशव हिंगोनिया ने कहा कि आप विधायक को सरकार होने का भ्रम है। उन्होंने आप विधायक पर अधिकारियों की बैठक में व्यवधान डालने का आरोप लगाया। एडीसी ने आप विधायक की शिकायत विधानसभा स्पीकर से करने की बात कही।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App