सिद्धू के पाकिस्तान प्रेम पर पंजाब कांग्रेस के नेताओं का फूटा गुस्सा, पार्टी प्रवक्ता ने सोनिया गांधी को भेजा इस्तीफा, कहा- नॉनसेंस को डिफेंड करना मुश्किल

पंजाब कांग्रेस के प्रवक्ता प्रीतपाल सिंह बलियावाल ने सिद्धू के बयानों से नाराज होकर इस्तीफा दे दिया है। पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को लिखे अपने इस्तीफे में उन्होंने कहा कि पंजाब कांग्रेस का नेतृत्व गलत हाथों में दिया गया है।

punjab congress spokesperson resign, punjab congress, sidhu
सिद्धू के बयानों से नाराज होकर पंजाब कांग्रेस के प्रवक्ता प्रीतपाल सिंह बलियावाल ने दिया इस्तीफा (फोटो- PritPal Singh Baliawal)

पंजाब कांग्रेस में बवाल थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के पाकिस्तान प्रेम को लेकर अब राज्य के नेता असहज होने लगे हैं। इसी को लेकर पंजाब कांग्रेस के एक प्रवक्ता ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को अपना इस्तीफा सौंप दिया है।

पंजाब कांग्रेस को बड़ा झटका देते हुए पार्टी प्रवक्ता प्रीतपाल सिंह बलियावाल ने सोमवार को इस्तीफा दे दिया। प्रीतपाल सिंह कांग्रेस में कई पदों पर रहे चुके हैं। वो राष्ट्रीय समन्वयक, हरियाणा और हिमाचल प्रदेश किसान कांग्रेस के प्रभारी और पार्टी के भीतर वरिष्ठ मीडिया पैनलिस्ट के पदों पर कार्य कर चुके हैं।

पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को लिखे अपने इस्तीफे में उन्होंने कहा कि पंजाब कांग्रेस का नेतृत्व गलत हाथों में दिया गया है। प्रीतपाल सिंह ने सिद्धू का जिक्र करते हुए लिखा- “एक प्रवक्ता के रूप में, पाकिस्तान के साथ अपने संबंधों के साथ-साथ बकवास और पार्टी विरोधी, सरकार विरोधी टिप्पणियों का बचाव करना बहुत कठिन हो गया है।”

प्रीतपाल सिंह बलियावाल ने इस पत्र में पंजाब के पूर्व सीएम अमरिंदर सिंह को भी समर्थन देने के संकेत किए हैं। उन्होंने लिखा- “हम कैप्टन अमरिंदर सिंह और सुनील कुमार जाखड़ के नेतृत्व में 2022 में सरकार बनाने की मजबूत क्षमता में थे, लेकिन आपने सिद्धू को चुनने का फैसला किया।”

उन्होंने आगे कहा कि वर्तमान पंजाब सीएम चरणजीत चन्नी अच्छा काम कर रहे हैं, लेकिन सिद्धू की तरफ के किए जा रहे ट्विट्स और बयानों से पार्टी की छवि खराब हो रही है। प्रीतपाल सिंह बलियावाल अकेले कांग्रेस नेता नहीं हैं जिन्होंने हाल के दिनों में पार्टी को अलविदा कह दिया है। पटियाला अर्बन यूथ कांग्रेस के प्रमुख ने शुक्रवार को अपने समर्थकों के साथ पार्टी से इस्तीफा दे दिया था।

बता दें कि सिद्धू के पाक प्रेम को लेकर खुद कांग्रेस भी कई बार असहज होती दिखी है, इसके बाद भी सिद्धू की बयानबाजी जारी है। हाल ही में उन्होंने पाकिस्तान से व्यापार फिर से शुरू करने के लिए मोदी सरकार से आग्रह किया था। उनकी इस मांग को लेकर भी काफी आलोचना हुई थी।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।