ताज़ा खबर
 

पंजाब: कांग्रेस विधायक सुरिंदर सिंह चौधरी डोप टेस्‍ट में फेल

हाल ही में पंजाब की सरकार ने सभी सरकारी कर्मचारियों का डोप टेस्ट कराने का फैसला लिया था। सोमवार को इस संबंध में कैबिनेट समीति की समीक्षा बैठक हुई, जिसकी अध्यक्षता सीएम कर रहे थे।

करतारपुर से विधायक सिंह सोमवार को परीक्षण में पॉजिटिव पाए गए। (फोटोः फेसबुक)

पंजाब में कांग्रेस के विधायक सुरिंदर सिंह चौधरी डोप टेस्ट (प्रतिबंधित नशीली दवाओं के सेवन का पता लगाने के लिए किया जाने वाला परीक्षण) में फेल हो गए। रविवार (आठ जुलाई) को हुए टेस्ट की रिपोर्ट में वह पॉजिटिव पाए गए। डॉक्टरों के अनुसार, यूरीन सैंपल में अवसाद और नींद की दिक्कत में ली जाने वाली नशीली दवा बेंजोडाइजेपिन के अंश मिले थे। सिंह यहां के करतारपुर से विधायक हैं। उन्होंने इस बारे में कहा, “दिमाग को थोड़ी राहत देने के लिए कुछ दिनों से दवा खा रहा था। ऐसा मैं डॉक्टर के कहने पर कर रहा था।” डोप टेस्ट का यह पहला ऐसा मामला है, जिसमें कोई नेता पॉजिटिव निकला है।

उधर, डोप टेस्ट कराने के सवाल पर लुधियाना (उत्तरी) के कांग्रेस से विधायक राकेश पांडे ने बताया कि वह भेड़चाल में विश्वास नहीं रखते हैं। मंगलवार को वह कुछ वॉर्ड काउंसलरों के साथ निगम आयुक्त से मिलने गए हुए थे। बोले, “हमें नशा खत्म करने पर जोर देना चाहिए। सरकार इसके लिए निरंतर काम कर रही है।” वहीं, बरनाला में अधिक नशा कर लेने से दो घरों के चिराग बुझ गए, जबकि तरनतार में एक घर में एक युवक की मौत की खबर है।

आपको बता दें कि हाल ही में पंजाब की सरकार ने सभी सरकारी कर्मचारियों का डोप टेस्ट कराने का फैसला लिया था। सोमवार को कैबिनेट समीति की समीक्षा बैठक हुई, जिसकी अध्यक्षता सीएम कर रहे थे। राज्य सरकार का नशा विरोधी अभियान कितना कारगर साबित हुआ यह जानने के लिए सीएम ने बैठक में सभी पुलिसकर्मियों और सरकारी कर्मचारियों का डोप टेस्ट कराने की प्रक्रिया शुरू कराने के दिशा-निर्देश दिए थे।

हालांकि, मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने डोप टेस्ट को लेकर सरकारी कर्मचारियों को राहत देते हुए यह भी कहा था कि जो पॉजिटिव पाए गए, उन्हें सजा नहीं मिलेगी। न ही उनको नौकरी से बर्खास्त कर दिया जाएगा। सीएम ने यह भी बताया कि डोप टेस्ट में पॉजिटिव पाए जाने वाले कर्मचारियों का इलाज कराया जाएगा। यही नहीं, उनके परीक्षण से जुड़ी सभी जानकारियों गुप्त रखी जाएंगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App