ताज़ा खबर
 

30 साल में पहली बार भारतीय बॉयोलॉजिकल मां से मिली स्वीडिश युवती, इस वजह से सिर्फ इशारों में कर पाई बातें

स्वीडिश महिला विभा सोफी मेदिन ने पहली बार अपनी बायोलॉजिकल मां से 30 साल बाद मुलाकात की। उसने कभी उम्मीद नहीं की थी कि वह इतने वर्षों बाद अपनी बायोलॉजिकल मां से मिल पाएगी।

Author पुणे | June 11, 2019 1:26 PM
प्रतीकात्मक चित्र फोटो सोर्स- जनसत्ता

महाराष्ट्र के पुणे स्थित श्रीवत्स चाइल्ड केयर सेंटर में सोमवार को उस वक्त खुशी का माहौल बन गया जब स्वीडिश महिला विभा सोफी मेदिन ने पहली बार अपनी बायोलॉजिकल मां से 30 साल बाद मुलाकात की। उसने कभी उम्मीद नहीं की थी कि वह इतने वर्षों बाद अपनी बायोलॉजिकल मां से मिल पाएगी। जैसे ही विभा ने मां को देखा तो कुछ पलों के लिए वह स्तब्ध, मौन खड़ी रही। वह एकटक अपनी मां को निहारती रही और फिर कहा, ‘क्या मैं इन्हें छू सकती हूं, क्या मैं इनसे गले मिल सकती हूं? इस दौरान दोनों ने ही इशारों में बात की क्योंकि वो एक दूसरे की भाषा को नहीं जानती थी।

श्रीवत्स चाइल्ड केयर सेंटर की प्रशासनिक इंचार्ज शर्मिला सईद ने बताया कि स्वीडिश महिला विभा की बायोलॉजिकल मां सिर्फ 15 साल की थी जब वह अविवाहित अवस्था में गर्भवती हो गई थी। लेकिन इसके बाद उसकी मां ने विभा को चाइल्ड केयर सेंटर को सौंप दिया। लेकन अब 30 वर्षों बाद अब विभा के अनुरोध पर उसकी बायोलॉजिकल मां से उसे मिलवाया गया है। विभा के इस समय चार बच्चें हैं।

विभा के पति जोबा ओल्सन ने उसकी बायोलॉजिकल मां को स्वीडन के अपने घर की तस्वीरें दिखाईं। जहां विभा एक वृद्धाश्रम में नर्स का काम करती है और जोनास एक बिजनेस मैनेजर के रूप में काम करता है। उन दोनों के चार बच्चे हैं, जिनका नाम लियाम (9), लियो (7), हेडविग (3) और सात महीने का हेलज है। जोबा ओल्सन ने कहा, “मेरी पत्नी चौथी डिलीवरी के दौरान बहुत दर्द से गुज़री थी ऐसे में उसने यह जानने की इच्छा की जब उसकी बायोलॉजिकल मां इतनी कम उम्र (15 वर्ष) में प्रेग्नेंट हुई थी तब क्या हुआ होगा?

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X