प्रियंका गांधी हो सकती हैं कांग्रेस की मुख्यमंत्री पद की दावेदार, पार्टी के सीनियर नेता ने दिए संकेत

उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनावों में प्रियंका गांधी की बढ़ती सक्रियता के बीच कांग्रेस के सीनियर नेता सलमान खुर्शीद ने संकेत देते हुए कहा कि उन्हें मुख्यमंत्री पद का चेहरा भी घोषित किया जा सकता है।

priyanka gandhi
प्रियंका गांधी (फाइल फोटो)। Photo Source- Indian Express

उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनावों में प्रियंका गांधी की बढ़ती सक्रियता के बीच कांग्रेस के सीनियर नेता सलमान खुर्शीद ने संकेत देते हुए कहा कि उन्हें मुख्यमंत्री पद का चेहरा भी घोषित किया जा सकता है। सलमान खुर्शीद ने कहा कि उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनावों को हम प्रियंका गांधी की अगुवाई में लड़ने जा रहे हैं। वो कांग्रेस को ऊंचाई पर पहुंचाने के लिए दिन रात मेहनत कर रही हैं। बाद में हम प्रियंका गांधी को कांग्रेस का चेहरा भी घोषित कर सकते हैं।

कांग्रेस ने हाल ही में यूपी चुनावों की तैयारियों को लेकर वीडियो का प्रोमो जारी किया था। इस वीडियो में भी प्रियंका गांधी को उत्तर प्रदेश की उम्मीद बताया गया था। प्रियंका पिछले कुछ महीनों से कांग्रेस को लेकर खासी सक्रिय हैं, इन दिनों वह अमेठी और राय बरेली के दौरे पर हैं।

अमेठी और राय बरेली की बैठकों में प्रियंका गांधी कांग्रेस पदाधिकारियों संग चर्चा कर रही है, कार्यकर्ताओं के फीडबैक के साथ साथ जनता की राय भी एकत्रित कर रही हैं और उसी हिसाब से चुनाव की रणनीति तैयार कर रही हैं। उत्तर प्रदेश के मामलों में वह ज्यादा एक्टिव दिखाई देती हैं और सीएम योगी और उनकी सरकार के खिलाफ हमला बोलने से भी नहीं चूकती हैं।

बड़े दलों से हाथ मिलाने से इनकार, छोटों से परहेज नहीं: कांग्रेस ने इन चुनावों में साफ कर दिया है वह उत्तर प्रदेश में किसी बड़े राजनीतिक दल के साथ गठबंधन नहीं करेंगी लेकिन छोटे दलों के साथ आने से इनकार भी नहीं किया है। इससे साफ होता है कि प्रियंका यूपी में अपनी जड़े जमाने के लिए इन चुनावों में अगुवा बनकर दमखम दिखाएंगी।

2017 में खराब रहा था प्रदर्शन: पिछले विधानसभा चुनावों में बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद से कांग्रेस ने समाजवादी पार्टी के साथ गठजोड़ किया था। पार्टी की तरफ से राहुल गांधी, अखिलेश यादव के साथ मिलकर चुनाव की कमान संभाल रहे थे लेकिन परिणामों ने कांग्रेस के वजूद पर ही सवाल खड़े कर दिए थे। कांग्रेस ने कुल 105 विधानसभा सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे थे लेकिन उन्हें महज 7 सीटों पर जीत मिली थी। उनका प्रदर्शन क्षेत्रिय दलों के मुकाबले भी कमतर रहा था।

2017 के बाद से ही एक्टिव हैं प्रियंका गांधी: 2017 में हुए विधानसभा चुनावों के बाद से उत्तर प्रदेश की जिम्मेदारी प्रियंका गांधी ने अपने कंधों पर ली थी। चुनाव के बाद से कई मौकों पर वह कांग्रेस फ्रंट पर योगी सरकार के खिलाफ खड़ी दिखाई दे चुकी हैं। ऐसे में प्रियंका इस बार पहले से ज्यादा सीटों पर हुंकार भरने की तैयारी कर रहे हैं। नतीजों के साथ साफ होगा कि प्रियंका गांधी की अगुवाई में प्रदेश में कांग्रेस का भविष्य क्या होगा।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट