ताज़ा खबर
 

लखनऊ में प्रियंका गांधी ने रातभर की मीटिंग, कई सवालों के जवाब नहीं दे पाए कांग्रेस के नेता

कांग्रेस की नवनिर्वाचित यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी ने बुधवार सुबह सवा पांच बजे तक पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ मीटिंग की। इस दौरान प्रियंका ने कार्यकर्ताओं के साथ मीटिंग में आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारियों की समीक्षा की।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी। (Photo: PTI)

कांग्रेस की नवनिर्वाचित यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी ने बुधवार सुबह सवा पांच बजे तक पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ मीटिंग की। इस दौरान प्रियंका ने कार्यकर्ताओं के साथ मीटिंग में आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारियों की समीक्षा की। सुबह तक चली इस मीटिंग में पार्टी के सभी वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे। इस दौरान प्रियंका ने कार्यकर्ताओं से कई ऐसे सवाल किए, जिनके जवाब न मिलने पर उन्हें फटकार भी लगी। आखिर में प्रियंका गांधी ने प्रयागराज के कार्यकर्ताओं के साथ मुलाकात के बाद मीटिंग खत्म की। मीटिंग का यह दौर करीब 16 घंटे तक चला। बता दें प्रियंका गांधी और ज्योतिरादित्य सिंधिया इस समय लखनऊ में ठहरे हुए हैं। वे अगले कुछ दिनों तक पार्टी के अन्य नेताओं से मुलाकात करेंगे और आगे की रणनीति बनाएंगे।

सवाल पूछने पर खामोश हो गए नेता : प्रियंका ने बैठक के दौरान नेताओं व कार्यकर्ताओं से मुलाकात करके बूथ स्तर की जमीनी स्थिति जानने की कोशिश की। इस दौरान काफी कार्यकर्ता ऐसे थे, जो प्रियंका के सवालों के जवाब नहीं दे पाए। बिना तैयारी के मीटिंग में आने वाले नेताओं को प्रियंका ने फटकार भी लगाई। इस दौरान प्रियंका ने उनसे सामान्य प्रश्न पूछे थे। मसलन आपके गृह बूथ में कितने मतदाता हैं? पिछली बार कांग्रेस को कितने वोट मिले थे? संबंधित नेता के कार्यक्षेत्र में क्या- क्या समस्याएं हैं, जो अन्य क्षेत्रों में नहीं हैं? क्षेत्र में पिछली बार कार्यक्रम कब किया था।

शुरुआत हुई उन्नाव से : प्रियंका गांधी मंगलवार दोपहर करीब एक बजे लखनऊ स्थित कांग्रेस मुख्यालय में पहुंची थीं। 1:30 बजे से उन्होंने तहसील, जिला और ब्लॉक स्तर के पदाधिकारियों, पूर्व सांसदों, विधायकों, पूर्व मंत्रियों और हारे हुए कैंडिडेट्स से मिलना शुरू किया। मीटिंग में सबसे पहले नंबर उन्नाव का आया। लखनऊ लोकसभा क्षेत्र से सबसे ज्यादा 50 लोग सामने आए थे, जिन्हें दो हिस्सों लखनऊ-1 और लखनऊ -2 में बांटा गया। वहीं, उन्नाव से सांसद अनु टंडन के साथ पार्टी के 18 कार्यकर्ता भी प्रियंका से मिलने पहुंचे थे।

कार्यकर्ताओं से भरवाए गए फॉर्म : प्रियंका ने मीटिंग के दौरान सभी कार्यकर्ताओं से एक फॉर्म भरवाया। इसमें उनके नाम-पते के अलावा उनके वॉट्सऐप और ट्विटर अकाउंट की जानकारी भी मांगी गई। साथ ही, पार्टी में अब तक वे किन-किन पदों पर रहे हैं, इसका ब्योरा भी मांगा गया।

प्रियंका के जिम्मे हैं यूपी की ये सीटें : प्रियंका को पूर्वी यूपी में 41 सीटों का जिम्मा सौंपा गया है। इनमें वाराणसी, गोरखपुर, फैजाबाद, फूलपुर और झांसी जैसी अहम सीटों के अलावा राहुल गांधी की लोकसभा सीट अमेठी और सोनिया गांधी की सीट रायबरेली भी शामिल है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App