ताज़ा खबर
 

पुलिसवाले ने बाइक पर बैठी गर्भवती महिला को दिया धक्‍का, गिरकर वैन के नीचे आई

मृतका की पहचान 30 वर्षीय उषा के रूप में की गई। वह तीन महीने की गर्भवती थी। हादसे में उसका पति धर्मराज बुरी तरह से जख्मी हुआ है। बुधवार रात को पुलिस हेलमेट चेकिंग अभियान चला रही थी। धर्मराज और उषा को भी रास्ते में पुलिस ने रुकने का इशारा किया था। लेकिन धर्मराज ने बाइक नहीं रोकी, तभी एक पुलिसवाले कामराज ने धर्मराज का पीछा किया।

तमिलनाडु के तिरुचिरपल्ली में बुधवार देर रात उषा (30) की मौत हो गई। (फोटोः टि्वटर)

तमिलनाडु के तिरुचिरपल्ली में बुधवार (सात मार्च) देर रात एक गर्भवती महिला की मौत हो गई। मोटरबाइक पर बैठी महिला को एक पुलिसवाले ने गश्त के दौरान धक्का मारा था। दुर्घटना के दौरान वह सड़क पर गिर गई थी। अचानक पीछे से तभी एक वैन आई, जो जिसने गर्भवती को रौंद डाला। हादसे में महिला ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। मृतका के साथ घटना के दौरान उसका पति था, जो बाइक चला रहा था। ‘वन तमिल इंडिया’ की खबर के अनुसार, मृतका की पहचान 30 वर्षीय उषा के रूप में की गई। वह तीन महीने की गर्भवती थी। हादसे में उसका पति धर्मराज बुरी तरह से जख्मी हुआ है। बुधवार रात को पुलिस हेलमेट चेकिंग अभियान चला रही थी। धर्मराज और उषा को भी रास्ते में पुलिस ने रुकने का इशारा किया था। लेकिन धर्मराज ने बाइक नहीं रोकी, तभी एक पुलिसवाले कामराज ने धर्मराज का पीछा किया।

दंपति की बाइक के पास पहुंचने पर उसने उनकी बाइक पर लात मारी। दंपति इस दौरान अपना संतुलन खो बैठे और उषा इसी चक्कर में बाइक से गिर पड़ी थीं। हादसे के फौरन बाद कामराज वहां से भाग निकला। हालांकि, लोगों के विरोध के बाद उसे गिरफ्तार किया गया।

घटना के बारे में जब आस-पास के लोगों को जानकारी हुई तो उन्होंने पुलिस के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। रिपोर्ट में कहा गया, पुलिस पर इस दौरान पत्थरबाजी भी की गई, जिसके बाद पुलिस ने उन्हें खदेड़ने के लिए लाठी चार्ज किया था। कई प्रदर्शनकारी इस दौरान चोटिल हुए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App