कोरोना से बचाने को लाठी लेकर सड़क पर उतर पड़ीं प्रेग्नेंट डीएसपी, लोगों ने दिए ऐसे रिएक्शन

ड्यूटी करती प्रेग्नेंट महिला डीएसपी का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होते ही कई लोगों ने उनकी बहादुरी को सलाम किया, हालांकि, कुछ लोगों ने कहा कि अफसर को अपने साथ एक और जिंदगी का ख्याल रखना चाहिए।

Author Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र रायपुर | Updated: April 21, 2021 8:50 AM
Chhattisgarh, Pregnant Police Officerछत्तीसगढ़ के बस्तर में कोरोना गाइडलाइंस का पालन कराने के लिए ड्यूटी पर उतर आईं प्रेग्नेंट डीएसपी शिल्पा साहू। (फोटो- ट्विटर/@DipanshuKabra)

देश में कोरोना की दूसरी लहर के बीच सबसे ज्यादा प्रभावित राज्यों में छत्तीसगढ़ सबसे ऊपर है। यहां हर दिन हजारों की संख्या में नए केस सामने आ रहे हैं। ऐसे में लोगों की जान बचाना अब प्रशासन के लिए सिरदर्द बन गया है। इन बिगड़ती स्थितियों को संभालने के लिए अब जिम्मेदार अफसर आगे आ रहे हैं। सोशल मीडिया पर वायरल हुए एक वीडियो में छत्तीसगढ़ के बस्तर में प्रेग्नेंट महिला डीएसपी को भरी गर्मी में सड़कों पर उतरकर अपनी ड्यूटी करते देखा जा सकता है। वीडियो में डीएसपी लोगों से कोरोना की गाइडलाइंस मानने की अपील करने में जुटी हैं। इस घटना पर लोगों ने जबरदस्त रिएक्शन भी दिए हैं।

कौन हैं प्रेग्नेंट महिला डीएसपी?: वायरल वीडियो में जो महिला डीएसपी दिखाई दे रही हैं, उनका नाम शिल्पा साहू बताया गया है। वीडियो में उन्हें एक हाथ में लाठी लिए और कोरोना से बचाव के लिए चेहरे पर शील्ड लगाए देखा जा सकता है। यह वी़डियो बस्तर जिले के दंतेवाड़ा का है। डीएसपी को लोगों से घर के अंदर रहने की अपील करते भी सुना जा सकता है।

छत्तीसगढ़ के एडिशन ट्रांसपोर्ट कमिश्नर दीपांशु काबरा ने ट्वीट में डीएसपी की फोटो शेयर करते हुए कहा, “तस्वीर दंतेवाड़ा DSP शिल्पा साहू की है शिल्पा गर्भावस्था के दौरान भी चिलचिलाती धूप में अपनी टीम के साथ सड़कों पर मुस्तैदी से तैनात हैं और लोगों से लॉक डाउन का पालन करने की अपील कर रही हैं।” एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लोगों से कोरोना से बचाव की अपील करते हुए कहा, “कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर से लोगों को बचाने पुलिस इन दिनों हर संभव कोशिश कर रही है आप भी जिम्मेदार नागरिक की भूमिका अदा करें और लॉक डाउन के दौरान घर पर सुरक्षित रहें।”

महिला डीएसपी के सड़कों पर उतरकर ड्यूटी करने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसके बाद से ही उन्हें सलाम करने वालों की तादाद लगातार बढ़ती जा रही है। हालांकि, कई लोगों ने उनके स्वास्थ्य को लेकर भी चिंता जाहिर की। सनी तमोरी नाम के यूजर ने कहा, “हमें गर्व है ऐसे होनहार पुलिस अफसर पर। जय हिंद।”

एक और यूजर रवि ने कहा, “अपनी जिम्मेदारी समझने के लिए हम उनकी तारीफ करते हैं। अगर सामान्य जनता समझदार है, तो वे नियमों का पालन करेंगे। लेकिन महिला डीएसपी को भी अपने बच्चे की सुरक्षा सुनिश्चित करनी चाहिए, मेरे हिसाब से यह उनकी सबसे बड़ी जिम्मेदारी है।”

यूजर्स ने जताई प्रेग्नेंट डीएसपी की सेहत को लेकर चिंता: एक और यूजर डॉक्टर वर्षा वरवंदकर ने लिखा, “ड्यूटी करनी बहुत अच्छी बात है, पर इस चिलचिलाती धूप में, कोविड का समय है, अपने होने वाले बच्चे के साथ अन्याय कर रही है,वो भी सिर के उपर बिना छतरी लिए, दुस्साहस कहते है इसे और छत्तीसगढ़ में पुलिस फोर्स कम हो गई है क्या सर?”

वहीं डॉक्टर चयनिका उनियाल ने कहा, “एक गर्भवती महिला को इस प्रकार की ड्यूटी नहीं दी जानी चाहिए। #COVID19 की महामारी में यह उनके और उनके होने वाले बच्चे दोनो के लिए संकटपूर्ण हो सकता है।”

Next Stories
1 कोरोना से मौत, अपनों ने किया इनकार तो दो मुस्लिम भाइयों ने किया अंतिम संस्कार
2 डॉ. कफील पर लगा था NSA, मुख्यमंत्री योगी को पत्र लिख कहा- देश की सेवा करने का मौका दें, बाद में फिर कर दीजिएगा निलंबित
3 यूपीः बरेली के कोर्ट में ‘लव जिहाद’ केस को लेकर हिंदूवादी संगठन के कार्यकर्ताओं का हंगामा!
आज का राशिफल
X