ताज़ा खबर
 

मंदिर नहीं तो भाजपा को वोट नहीं, प्रवीण तोगड़िया का दल-बल के साथ अयोध्या कूच!

राम मंदिर निर्माण को लेकर प्रवीण तोगडि़या ने कहा कि कोर्ट में मामला तो 70 साल से है। तो अब तक संसद में कानून बनाकर राममंदिर बनाने का वादा क्यों किया‌?

विश्व हिंदू परिषद के पूर्व नेता प्रवीण तोगड़िया (एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

लोकसभा चुनाव 2019 से पहले अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का मुद्दा एक बार फिर गरमाने लगा है। राम मंदिर को लेकर प्रवीण तोगडि़या ने दल-बल के साथ लखनऊ से अयोध्या की तरफ कूच किया। कूच से पहले रविवार (21 अक्टूबर) को तोगडि़या ने लखनऊ के इको गार्डन पार्क में एक जनसभा को संबोधित किया। अपने मार्च के दौरान तोगडि़या ने कहा कि यदि राम मंदिर नहीं बना तो भाजपा को वोट नहीं मिलेगा। तोगडि़या ने कहा, ” लखनऊ से अयोध्या तक की यात्रा लोकतांत्रिक प्रदर्शन है। 1990-92 में यह प्रदर्शन योगी, मोदी और आडवाणी भी करते थे। ये कौन सी नई बात है। अयोध्या में राम मंदिर नहीं तो हिंदुओं का वोट नहीं। भाजपा को हिंदुओं का वोट नहीं तो हिंदू किसको वोट देंगे? तो अगली बार हिंदुओं की सरकार, उनकी लाखों गांवों तक पहुंचने की कार्ययोजना, 23 तारीख को अयोध्या से घोषित होगी।”

“पूरा मामला सुप्रीम कोर्ट में है। सरकार की तरफ से हमेशा यह तर्क दिया जाता है कि फैसला आने दीजिए तब कोई पक्ष होगा। अाप इस बात से कितने सहमत हैं?” के सवाल पर तोगडि़या ने कहा, “झूठ है। कोर्ट में मामला तो 70 साल से है। तो अब तक संसद में कानून बनाकर राममंदिर बनाने का वादा क्यों किया‌? भाजपा, आडवाणी जी और नरेंद्र भाई मोदी जी ने हिंदुओं के सामने झूठ बोला था क्या? राम मंदिर नहीं तो हिंदुओं का वोट नहीं। हमारी यह यात्रा राम मंदिर निर्माण के लिए सरकार पर दबाव बनाने की है। लेकिन वे किसानों, छात्रों और बेरोजगारों के भी मुद्दे को उठाएंगे।” माना जा रहा है कि तोगडि़या 23 अक्टूबर को कोई बड़ा राजनीतिक फैसला भी ले सकते हैं।

बता दें कि इस साल के शुरूआत में विश्व हिंदू परिषद के अध्यक्ष पद से हटा दिया गया था। इसके बाद उन्होंने अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद का गठन किया। इस परिषद ने अयोध्या कूच करने से पहले जनसभा का अयोजन किया। कीर्तन करते हुए रामभक्तों के साथ प्रवीण तोगडि़या ने अयोध्या के लिए कूच किया। प्रवीण तोगडि़या पहले भी कह चुके हैं कि जब सरकार तीन तलाक पर कानून बना सकती है तो फिर राम मंदिर पर क्यों नहीं बना सकती है?

Next Stories
1 56 साल बाद ग्रामीणों को 38 करोड़ मुआवजा, भारत-चीन युद्ध के समय सेना ने किया था जमीन अधिग्रहण
2 छत्तीसगढ़: सपा ने भी उतारे उम्मीदवार, दोनों चरणों के लिए कुल नौ चेहरों का ऐलान
3 मध्य प्रदेश: वोटरों को रिझाने के लिए जादूगर उतारेगी भाजपा, 15 साल के कामों का दिखाएगी मैजिक
आज का राशिफल
X