ताज़ा खबर
 

मध्‍य प्रदेश: राजनाथ सिंह के चॉपर की लैंडिंग के लिए घंटो गुल कर दी गई बिजली, बवाल हुआ तो जोड़ी लाइन

वीवीआइपी दौरे के कारण मध्य प्रदेश में करीब 20 गांवों की बिजली 12 से अधिक घंटे तक गायब रही। गृहमंत्री राजनाथ सिंह के हेलीकॉप्टर की सुरक्षित लैंडिंग हो सके, इस नाते प्रशासन ने गांवों की बिजली सप्लाई ही काट दी।

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह। (फाइल फोटो)

वीवीआइपी दौरे के कारण मध्य प्रदेश में करीब 20 गांवों की बिजली 12 से अधिक घंटे तक गायब रही। गृहमंत्री राजनाथ सिंह के हेलीकॉप्टर की सुरक्षित लैंडिंग हो सके, इस नाते प्रशासन ने गांवों की बिजली सप्लाई ही काट दी।इसके लिए स्थानीय प्रशासन ने अखबारों में नोटिस भी प्रकाशित कराई थी, जिसमें कहा गया था कि 19 मई को शाम चार बजे से 20 मई को शाम छह बजे तक बिजली आपूर्ति बाधित रहेगी।दरअसल जिस जगह राजनाथ सिंह का हेलीकॉप्टर उतरना था, वहां से हाईवोल्टेज की दो लाइन गुजरती है। जब कई घंटे तक बिजली बाधित रही तो स्थानीय लोगों ने बिजली विभाग के दफ्तरों के सामने धरना-प्रदर्शन शुरू कर दिया।

जिसके बाद रविवार की सुबह करीब तीन बजे बिजली लाइन जोड़कर फिर से आपूर्ति शुरू की गई।सतना जाने को गृहमंत्री के लिए रविवार को दूसरा रूट तैयार हुआ। सतना में वह 1857 के स्वतंत्रता संग्राम में अंग्रेजों के खिलाफ लड़ाई लड़ने वाले ठाकुर रणमत सिंह की मूर्ति का अनावरण करेंगे।

एनडीटीवी में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक स्थानीय लोगों ने बताया कि बिजली न आने से 20 गांवों में पानी सप्लाई भी बंद हो गई। घरों पर छोटे बच्चे गर्मी से परेशान रहे।यह पहली बार नहीं है जब कि आम आदमी किसी वीआइपी दौरे के कारण परेशान हुए, फरवरी 2016 में सिहोर के एक किसान सुरेश परमार ने आरोप किया था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरे के कारण उसे अपनी खेत में खड़ी गेहूं की फसल काटनी पड़ी थी, क्योंकि अफसरों ने दबाव बनाया था।जिससे काफी नुकसान हुआ।

Next Stories
1 डॉक्टर पत्नी का मर्डर करने क्लीनिक पहुंचा धोखेबाज पति, पुलिस ने तमंचे संग दबोचा
2 पुलिस की उगाही से परेशान हुए बीजेपी विधायक, सीएम योगी को चिट्ठी लिख लगाई मदद की गुहार
3 बीजेपी विधायक के बेटों ने की एयर होस्टेस के साथ यौन शोषण की कोशिश, दर्ज हुई एफआईआर
ये पढ़ा क्या?
X