यूपी: बिजली कटौती से परेशान आबकारी मंत्री ने बिजली मंत्री से की शिकायत, चिट्ठी लीक होने से हुई योगी आदित्यनाथ की किरकिरी-Power crisis hits small towns, villages most in Uttar Pradesh - Jansatta
ताज़ा खबर
 

यूपी: बिजली कटौती से परेशान आबकारी मंत्री ने बिजली मंत्री से की शिकायत, चिट्ठी लीक होने से हुई योगी आदित्यनाथ की किरकिरी

उत्तर प्रदेश में इन दिनों योगी आदित्यनाथ सरकार का मजाक बनाया जा रहा है। दरअसल, प्रदेश के लोग बिजली समस्या को लेकर खास परेशान है। शिकायत करने पर भी शहरों और ग्रामीण इलाके में लोगों को पर्याप्त बिजली नहीं मिल रही है, जिसके चलते राज्य के लोगों में गुस्सा है।

Author नई दिल्ली | July 22, 2017 12:22 AM
उत्तर प्रदेश के मुख्मयंत्री योगी आदित्यनाथ

उत्तर प्रदेश में इन दिनों योगी आदित्यनाथ सरकार का मजाक बनाया जा रहा है। दरअसल, प्रदेश के लोग बिजली समस्या को लेकर खास परेशान है। शिकायत करने पर भी शहरों और ग्रामीण इलाके में लोगों को पर्याप्त बिजली नहीं मिल रही है, जिसके चलते राज्य के लोगों में गुस्सा है। राज्य में सरकार अपने चार माह पूरे कर चुकी है लेकिन 24 घंटे बिजली देने का वादा करना अब मुश्किल हो रहा है। बिजली समस्या को लेकर अब तक योगी सरकार विपक्ष पार्टियों के निशाने पर थी लेकिन अब खुद सरकार के मंत्री सवाल उठाने लगे हैं। उत्तर प्रदेश सरकार में आबकारी एवं मद्य निषेध विभाग के मंत्री जय प्रताप सिंह ने तो ऊर्जा मंत्री को शिकायत पत्र लिखा और अपने क्षेत्र सिद्धार्थनगर में बिजली सप्लाई करने की मांग की है। पत्र में लिखकर उन्होंने अपने मंत्री को कहा कि बिजली न मिलने से सरकार की छवि धूमिल पड़ रही है। लिहाजा इस पत्र के लीक हो जाने के बाद योगी सरकार की ओर से किए गए वादों की पोल खुल रही है।

क्योंकि कैबिनेट मंत्री जय प्रताप सिंह द्वारा पत्र लिखकर शिकायत करने के बाद भी उनके क्षेत्र में पर्याप्त बिजली मुहैया नहीं कराई गई। यानी राज्य में मुख्यमंत्री और ऊर्जा मंत्री के निर्देशों के बाद यहां के लोगों को पर्याप्त बिजली नहीं मिल पा रही है। राज्य में भारी मात्रा में बिजली की कटौती हो रही है।

सिद्धार्थनगर ही नहीं पीलीभीत के पूरनपुर के विधायक बाबूराम पासवान ने भी ऊर्जा मंत्री को पत्र लिखकर अपने क्षेत्र के दर्जनों गांवों-मजरों में बिजली मुहैया कराने की मांग की है। पत्र में भाजपा विधायक ने कहा है कि पीलीभीत-बरेली सीमा पर राष्ट्रीय मार्ग और राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित कई गांवों में अभी तक बिजली की कोई व्यवस्था ही नहीं है। लेकिन इन दोनों पत्रों में शिकायत करने के बाद भी क्षेत्रों में बिजली की भारी कटौती जारी है।
बता दें कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की घोषणा की, जिसके तहत राज्य के सभी जिलों में 23 जुलाई को सांसद एवं विधायक विशेष अभियान के तहत बीपीएल परिवारों को मुफ्त बिजली कनेक्शन के दस्तावेज बांटेंगे। राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘बीपीएल परिवारों को मुफ्त बिजली कनेक्शन जन प्रतिनिधियों द्वारा 23 जुलाई को वितरित किए जाएंगे. उन्होंने बताया कि मुफ्त बिजली कनेक्शन शहर और गांव दोनों ही जगहों के बीपीएल परिवारों को मिलेंगे। लेकिन वहीं दूसरी ओर राज्य के लोग बिजली की समस्या से जूझ रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App