scorecardresearch

लालू परिवार में पोस्टर वार: तेज प्रताप के कार्यक्रम के प्रचार में तेजस्वी यादव की तस्वीर गायब, RJD के अंदर और बाहर चर्चा गर्म

बिहार की राजनीति में पिछले कई दिनों से लालू यादव परिवार में अंतर्कलह के कयास लगाए जा रहे थे। इन कयासों को मजबूती दे रहे हैं पटना में लगे छात्र आरजेडी के पोस्टर।

लालू परिवार में पोस्टर वार: तेज प्रताप के कार्यक्रम के प्रचार में तेजस्वी यादव की तस्वीर गायब, RJD के अंदर और बाहर चर्चा गर्म
पटना स्थित आरजेडी दफ्तर के बाहर लगे पोस्टर से तेजस्वी यादव गायब। Photo Source- ANI

बिहार की राजनीति में पिछले कई दिनों से लालू यादव परिवार में अंतर्कलह के कयास लगाए जा रहे थे। इन कयासों को मजबूती दे रहे हैं पटना में लगे छात्र आरजेडी के पोस्टर। रविवार को छात्र आरजेडी की बैठक होनी है। इस बैठक को लेकर पटना में लगाए गए पोस्टरों में से तेजस्वी यादव की फोटो नदारद दिखी। वहीं पोस्टर में तेज प्रताप यादव के साथ पिता लालू यादव, माता राबड़ी देवी और छात्र राजद के अध्यक्ष आकाश यादव की फोटो भी लगी हुई है। पोस्टर से तेजस्वी के गायब होने के बाद सियासी सरगर्मियां तेज हो गई हैं।

इस पोस्टर को आरजेडी के स्थापना दिवस पर लगे पोस्टरों से जोड़कर देखा जा रहा है। पटना में जब स्थापना दिवस के पोस्टर लगाए गए थे, तो उसमें तेज प्रताप की तस्वीर गायब थी। प्राप्त जानकारी के मुताबिक अपनी फोटो नहीं होने से तेज प्रताप खासे नाराज थे और उन्होंने अपनी नाराजगी पार्टी के नेताओं के सामने भी जताई थी। ऐसे में इसे तेज प्रताप की नाराजगी के तौर पर लिया जा रहा है। हालांकि इसको लेकर पार्टी की तरफ कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया गया है।

दोनों के बीच बंटी हुई हैं जिम्मेदारियां: बताते चलें कि लालू यादव परिवार में राजनीतिक काम दोनों भाइयों के बीच बांटा गया है। तेज प्रताप यादव के पास शुरू से ही छात्र राजनीति की जिम्मेदारी रही है जबकि तेजस्वी के पास विधानमंडल दल समेत पार्टी की अन्य गतिविधियों की जिम्मेदारी है।

लालू ने की थी तेजस्वी की तारीफ: तेजस्वी यादव को तेज प्रताप के मुकाबले राजनीति में ज्यादा सक्रिय माना जाता है। खुद लालू भी उनकी तारीफ कर चुके हैं। जुलाई में जब लालू यादव कई दिनों के बाद मीडिया से मुखातिब हुए थे तो उनसे तेजस्वी से जुड़े सवाल करते हुए मीडिया ने तेजस्वी को लालू से कमतर बताया था। इसके जवाब में लालू ने कहा था कि तेजस्वी हमसे बहुत आगे निकल चुके हैं। किसी को बनाने से नहीं होता है, बनने वाला खुद ही बन जाता है। उन्होंने कहा था कि जब हम जेल में थे तो जनता ने देखा कि तेजस्वी की सभाओं में किस तरह से भीड़ जुटा करती थी।

BJP-JDU और कांग्रेस की प्रतिक्रिया: आरजेडी के इस पोस्टर वार में जहां पार्टी कार्यकर्ताओं में असमंजस की स्थिति है तो वहीं अन्य पार्टियों ने इस पर तंज कसने में देर नहीं की। जेडीयू प्रवक्ता अभिषेक झा ने कहा कि लालू परिवार, पोस्टर फैमिली हो गया है। पहले चुनावों के दौरान पोस्टरों से माता-पिता को बाहर निकाला गया लेकिन अब तेजू भइया ने तेजस्वी को ही निकाल दिया। बीजेपी प्रवक्ता, अरविंद सिंह ने कहा कि दोनों भाईयों के बीच शुरू से ही अनबन है, जो अधिकार तेज प्रताप को मिलना था लालू यादव ने वह अधिकार पुत्र मोह में तेजस्वी को दे दिया गया जोकि 9वीं पास हैं। इसके अलावा कांग्रेस के प्रवक्ता राजेश राठौड़ ने इसे परिवार के विवाद से हटकर देखने की सलाह दी है।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट