ताज़ा खबर
 

भगवान शंकर की फोटो पर आपत्तिजनक कमेंट किया तो हियुवा कार्यकर्ताओं ने मुस्लिम युवक को पीटा

उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर जिले में सोशल मीडिया पर अपलोड फोटो पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाले एक युवक की हिंदु युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं ने कथित रूप से पिटाई कर दी।

Author शाहजहांपुर | July 26, 2017 6:09 PM
उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर जिले में सोशल मीडिया पर अपलोड फोटो पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाले एक युवक की हिंदु युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं ने कथित रूप से पिटाई कर दी।

उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर जिले में सोशल मीडिया पर अपलोड फोटो पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाले एक युवक की हिंदु युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं ने कथित रूप से पिटाई कर दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर युवक को अपनी हिरासत में ले लिया है।
थाना अल्लाहगंज प्रभारी आशुतोष सिंह ने बताया की कल मंगलवार को हिंदु युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं ने भगवान शंकर की एक फोटो सोशल मीडिया पर अपलोड की थी। तस्वीर पर कस्बे के ही रहने वाले हाई स्कूल के छात्र सलमान ने आपत्तिजनक टिप्पणी कर दी। इससे नाराज हिंदु युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं ने उसे बाजार में जमकर पीटा। सिंह ने बताया कि सूचना मिलते ही पुलिस ने आरोपी सलमान को छुड़ाया और थाने ले आई। आज दुर्गेश गुप्ता की ओर दर्ज कराये गये मुकदमे के आधार पर आरोपी को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

बता दें कि इससे पहले हिंदु युवा वाहिनी को एक मीडिया हाउस आतंकवादियों का सरगना करार दे चुका है। गौरतलब है कि अमेरिका के मशहूर अखबार न्यूयॉर्क टाइम्स ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को आतंकी संगठन हिन्दू युवा वाहिनी का सरगना बताया है और लिखा है कि देश की सबसे ज्यादा आबादी वाले राज्य में एक ऐसे महंत को शासन करने के लिए चुना गया है जो पहले से ही नफरत भरे बोल बोलता रहा है। अखबार की वेबसाइट पर “हिन्दुस्तान में एक फायरब्रांड हिन्दू पुजारी राजनीतिक सीढ़ियां चढ़ता” शीर्षक से लिखे आलेख में कहा गया है कि योगी आदित्यनाथ को अधिकांश लोग योगी कहकर ही पुकारते हैं। अखबार ने लिखा है कि योगी एयर कंडीशनर यूज नहीं करते हैं और जमीन पर सोते हैं। वो कई बार रात में सिर्फ एक सेव खाकर रहते हैं।

अखबार ने लिखा है, “योगी की पहचान एक ऐसे मंदिर के पुजारी के रुप में है जो अपने आतंकवादी हिंदू सर्वोच्च जातिवादी परंपरा के लिए कुख्यात है। उन्होंने मुसलमान शासकों द्वारा ऐतिहासिक गलतियों का बदला लेने के लिए युवाओं की एक सेना (हिन्दू युवा वाहिनी) बनाई है, जिसका मकसद दो पैर वाले जानवरों (मुस्लिमों) की फसल को रोकना है। अखबार ने लिखा है कि एक चुनावी रैली में उन्होंने चिल्लाकर कहा था, “हम सभी धार्मिक युद्ध की तैयारी कर रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App