ताज़ा खबर
 

‘मैंने किस किया, उसने विरोध नहीं किया’, 60 से ज्यादा महिलाओं को शिकार बनाने वाले गैंग के सदस्य का कबूलनामा!

पुलिस ने आरोपियों को गुंडा एक्ट के तहत गिरफ्तार किया है। पुलिस का कहना है कि आरोपियों ने 50 से ज्यादा महिलाओं को अभी तक अपना शिकार बनाया है।

पोलाच्ची सेक्स स्कैंडल का आरोपी। (image source-video grab image)

तमिलनाडु के कोयंबटूर में एक सेक्स स्कैंडल का बड़ा मामला सामने आया है। पोलाच्ची सेक्स स्कैंडल मामले के तहत 4 लोगों ने 60 से ज्यादा महिलाओं को अपना शिकार बनाया और उनका शारीरिक शोषण किया। खबर के अनुसार, आरोपी सोशल मीडिया के जरिए पीड़िताओं से दोस्ती करते थे और फिर उनसे मिलने या उन्हें घुमाने के बहाने उनकी आपत्तिजनक तस्वीरें या वीडियो बना लेते थे। इसके बाद आरोपी पीड़िताओं को इन्हीं तस्वीरों और वीडियो के जरिए ब्लैकमेल करते और उनसे पैसे ऐंठते या फिर उनका शारीरिक शोषण करते थे। फिलहाल पुलिस ने चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं तमिलनाडु में इस मामले को लेकर हंगामा हो गया है, जिसके बाद मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी गई है।

वहीं आरोपियों का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वह अपना जुर्म कबूल करते दिखाई दे रहे हैं। एनडीटीवी की एक खबर के अनुसार, यह वीडियो स्थानीय लोगों द्वारा शूट किया गया है, जिसमें वह 2 आरोपियों से मामले को लेकर पूछताछ कर रहे हैं। खबर के अनुसार, वीडियो में एक आरोपी अपना गुनाह कबूल करते हुए कह रहा है कि एक कॉलेज छात्रा के बारे में बता रहा है कि ‘जब हमने उससे घूमने के लिए पूछा तो वह हमारी कार में आ गई। इसके बाद उसने लड़की के साथ गलत हरकत शुरु कर दी।’ आरोपी ने बताया कि ‘उसने पीड़िता को किस किया और फिर उसके साथ गलत हरकत शुरु कर दी। आरोपी ने यह भी कहा कि वह इससे मना कैसे कर सकती थी, जब उसने किस का ही विरोध नहीं किया?’

हालांकि एनडीटीवी ने उक्त वीडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं की है। वहीं पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए युवकों में से दो उच्च शिक्षित और तकनीक के जानकार हैं, वहीं 2 अन्य निजी कंपनियों में नौकरी करते हैं। फिलहाल पुलिस ने आरोपियों को गुंडा एक्ट के तहत गिरफ्तार किया है। पुलिस का कहना है कि आरोपियों ने 60 से ज्यादा महिलाओं को अभी तक अपना शिकार बनाया है। हालांकि सीबीआई ने नए सिरे से इसकी जांच शुरु की है, क्योंकि अभी तक सिर्फ एक पीड़िता ने ही आरोपियों के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज करायी है। वहीं विपक्षी नेता एमके स्टालिन ने सरकार पर आरोपियों को बचाने का आरोप लगाया है। वहीं तमिलनाडु के सीएम ई.पलानीसामी द्वारा अभी तक इस मुद्दे पर कोई टिप्पणी नहीं की गई है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App