ताज़ा खबर
 

काउंटिंग के बीच बंगाल में EC के आदेश की उड़ी धज्जियां, असनसोल में TMC समर्थकों ने बीच सड़क पर पटाखे; समझाने आई पुलिस तो चिल्लाने लगे- “खेलो होबे”

विधानसभा चुनाव को लेकर चल रही मतगणना में तृणमूल कांग्रेस को बढ़त मिलता देख पश्चिम बंगाल के आसनसोल में पार्टी कार्यकर्ताओं ने सड़क पर ही ढोल नगाड़े बजाकर और पटाखे जलाकर जश्न मनाना शुरू कर दिया।

tmc, west bengalचुनावी रुझानों में टीएमसी को बहुमत मिलता देख कोलकाता की सड़कों पर कुछ यूं नजर आए पार्टी कार्यकर्ता (फोटो – पीटीआई)

दोपहर 1 बजे तक आए रुझानों के अनुसार तृणमूल कांग्रेस बहुमत का आंकड़ा पार कर चुकी है। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में बहुमत मिलता देख तृणमूल कार्यकर्ताओं ने राज्य के अलग अलग हिस्सों में जश्न मनाना शुरू कर दिया है। राज्य में जारी मतगणना के बीच लोगों ने चुनाव आयोग के आदेश की जमकर धज्जियां उड़ाई। इतना ही आसनसोल में सड़क पर पटाखे छोड़ रहे टीएमसी कार्यकर्ताओं को जब पुलिस समझाने आई तो लोगों ने उनके सामने ही खेला होबे का नारा लगाना शुरू कर दिया।

राज्य में जारी मतगणना के बीच सभी जगहों पर चुनाव आयोग के आदेश का उल्लंघन किया गया। राज्य के तमाम विधानसभाओं में भी यही स्थिति देखने को मिली. जीत के जश्न में डूबे कार्यकर्ताओं ने कोरोना संक्रमण को लेकर चुनाव आयोग के द्वारा जारी किए गए आदेश का जमकर मखौल उड़ाया गया। इस दौरान कई लोग बिना मास्क पहने और सोशल डिस्टेसिंग का उल्लंघन करते हुए दिखे।

विधानसभा चुनाव को लेकर चल रही मतगणना में तृणमूल कांग्रेस को बढ़त मिलता देख पश्चिम बंगाल के आसनसोल में पार्टी कार्यकर्ताओं ने सड़क पर ही ढोल नगाड़े बजाकर और पटाखे जलाकर जश्न मनाना शुरू कर दिया। इस दौरान तृणमूल कार्यकर्ताओं ने उन्हें समझाने आए पुलिस अधिकारी के सामने भी खेला होबे का नारा लगाना शुरू कर दिया। चुनावी जश्न में डूबे कार्यकर्ताओं ने ममता बनर्जी की बात को भी अनसुना कर दिया। ममता बनर्जी ने कोरोना के बढ़ते संक्रमण की वजह से पार्टी के लोगों से आग्रह किया था कि वे कोरोना संक्रमण के मद्देनजर चुनावी जीत का जश्न ना मनाएं।

इसी बीच पश्चिम बंगाल में राजनीतिक पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा जश्न मनाने पर लगी रोक का उल्लंघन करने पर चुनाव आयोग ने कार्रवाई करने का आदेश दे दिया है। चुनाव आयोग ने राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों को विजय उत्सव पर तत्काल रोक लगाने के लिए पत्र लिखा है। चुनाव आयोग ने निर्देश दिए हैं कि जिम्मेदार SHO और अन्य अधिकारियों को तत्काल निलंबित किया जाना चाहिए और उनके खिलाफ आपराधिक और अनुशासनात्मक कार्रवाई शुरू की जानी चाहिए। 

बता दें कि बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए हो रही मतगणना में दोपहर 1 बजे तक तृणमूल कांग्रेस 148 सीटों के बहुमत के आंकड़े को पार करते हुए 200 से ज्यादा सीटों पर पहुंच गई। हालांकि नंदीग्राम में ममता बनर्जी अभी भी भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार शुभेंदु अधिकारी से पिछड़ती हुई दिखाई दे रही हैं। भाजपा सिर्फ 80 सीटों पर बढ़त बनाए हुई है।

 जानें पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में कहां किसने दर्ज की जीत

Next Stories
1 निर्दलीय प्रत्याशियों ने लहराया परचम, भाजपा से आगे निकल गई सपा
2 यूपी पंचायत चुनाव में सपा का परचम, भाजपा को निर्दलीयों पर यकीन
3 जब महाभारत, रामायण पर ऐंकर से भिड़ गए थे लालू यादव, कहा था- मैं बहुत बड़ा साधु हूं
आज का राशिफल
X