ताज़ा खबर
 

सड़क हादसे में घायल महिला मजदूर को कंधे पर लादकर दौड़ा 57 साल का पुलिसकर्मी, अस्पताल पहुंचाया; देखें वीडियो

मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने पुलिसकर्मी की तारीफ करते हुए लिखा, "एएसआई संतोष सेन पर पूरे मध्यप्रदेश को गर्व है! संतोष जी युवा पुलिसकर्मियों के लिए प्रेरणा का स्रोत हैं।"

Author Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र भोपाल | Updated: November 19, 2020 11:13 AM
Madhya Pradesh, Jabalpurसोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो में पुलिसकर्मी संतोष सेन को महिला मजदूर को कंधे पर लेकर दौड़ते देखा जा सकता है। (फोटो- वीडियोग्रैब)

मध्य प्रदेश के जबलपुर से पुलिसकर्मियों की बहादुरी का वीडियो सामने आया है, जिसकी तारीफ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी की है। दरअसल, मंगलवार को जबलपुर से 35 किमी दूर घुघरी गांव के पास लोडिंग वाहन खाई में पलट गया था। इसमें 36 मजदूर सवार थे। 27 बुरी तरह घायल हो गए। घायलों में 12 वर्ष से लेकर 60 वर्ष तक के लोग शामिल थे। सभी को इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज पहुंचाया जाना था, लेकिन स्ट्रेचर कम पड़ गए। ऐसे में चरगवां थाने के एएसआई संतोष सेन ने हिम्मत दिखाते हुए घायलो को कंधे पर उठाकर मेडिकल कॉलेज की कैजुअल्टी तक पहुंचाया। साथी पुलिसकर्मियों ने भी उनका पूरा साथ दिया और अन्य घायलों को गोद में उठाकर अस्पताल पहुंचाया।

चौंकाने वाली बात यह है कि सेन की उम्र 57 वर्ष है, 2006 में एक बड़े हादसे का शिकार होने के बावजूद वह पूरी तरह फिट नजर आते हैं। 14 साल पहले नरसिंहपुर में पवन यादव नाम के गुंडे ने उनके दाहिने कंधे पर गोली मार दी थी। इसके चलते उनका दाहिना हाथ ठीक तरह से काम तक नहीं करता। पर उनकी इस बहादुरी का वीडियो वायरल होने के बाद सोशल मीडिय यूजर्स ने उन्हें सलाम किया है।

एएसआई सेन के इस जज्बे को पहचानने वालों में सोशल मीडिया के साथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी शामिल रहे। उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल से घटना का जिक्र करते हुए लिखा, “एएसआई संतोष सेन पर पूरे मध्यप्रदेश को गर्व है! संतोष जी युवा पुलिसकर्मियों के लिए प्रेरणा का स्रोत हैं। उनके जैसे लोग समाज को दिशा दिखाने का कार्य करते हैं। मैं उनके जज़्बे को प्रणाम करता हूं, उन्हें शुभकामनाएं देता हूं और हार्दिक अभिनंदन करता हूं।”

जबलपुर रेंज के आईजी भगवत सिंह चौहान ने बुधवार को एएसआई संतोष सेन सहित पांचों पुलिस कर्मियों को प्रशंसा पत्र देते हुए एक-एक हजार रुपए के पुरस्कार से सम्मानित किया। इससे पहले जबलपुर के एसपी ने भी सभी पुलिसकर्मियों को सम्मानित किया था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ‘ओबामा गलती से मुंबई आए तो कस्टडी में जा सकते हैं, FIR तो हो चुकी’ डिबेट में बोले संबित पात्रा- कभी भी उठा लेगी पुलिस
2 मनोज तिवारी ने ट्वीट कर केजरीवाल को बताया ‘नमकहराम’ सीएम, AAP ने दिया जवाब
3 दिल्ली में अब शादियों में 50 लोगों के ही शामिल होने की अनुमति, कोरोना केसों के बढ़ने पर फैसला
यह पढ़ा क्या?
X