ताज़ा खबर
 

यूपी: लुटेरी दुल्‍हन ने 18 युवकों से शादी कर लाखों रुपये ठगे, ऐसे पकड़ी गई

पहले वह शादी करती थी और दो-तीन दिनों बाद लाखों के जेवरात व नकदी लेकर फरार हो जाती थी। साथ ही उसका कथित पति लोगों को ब्लैकमेल कर मोटी रकम वसूलता था। पुलिस ने ऐसी ही एक लुटेरी दुल्हन और उसके गैंग का भंडाफोड़ किया।

दुल्हन का प्रतीकात्मक चित्र (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

पहले वह लोगों को अपने जाल में फंसाती थी। फिर शादी करती थी। शादी के दो-तीन दिन बाद घर से गहने, जेवरात, कीमती सामान व पैसे लेकर फरार हो जाती थी। कभी-कभी जिससे शादी करती थी, उसके घरवालों को डरा-धमकाकर पैसे वसूलने के बाद दूसरे शिकार की तलाश में निकल पड़ती थी। पुलिस ने ऐसी ही एक लुटेरी दुल्हन और उसेक गिरोह का भंडाफाेड़ किया है। मामला उत्तर प्रदेश के बांदा जिले का है। पुलिस ने जब गिरफ्तार लोगों से पूछताछ की तो पूरा मामला सामने आ गया।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, गिरोह की सरगना निर्मला ठाकुर ने बांदा शहर के कैलाशपुरी मोहल्ले के घनश्याम से बीते 10 जुलाई को शादी रचाई थी। शादी के एवज में साध्वी मालती शुक्ला, ममता द्विवेदी और उसके पति निरंजन द्विवेदी ने 50 हजार रुपये लिए थे। शादी के अभी तीन दिए हुए थे कि अचानक निर्मला का कथित पति कुलदीप घनश्याम के घर पहुंचा। उसने धमकी दी कि निर्मला का अपहरण करके तुमने जबरन शादी की है। दो लाख रुपये दो वर्ना पुलिस में शिकायत करूंगा। पैसे देने से इनकार करने पर कुलदीप ने घनश्याम और उसके भाई के खिलाफ कोतवाली में अपहरण, गैंगरेप सहित कई अन्य आरोपों में शिकायत दर्ज करवा दिया। मामला दर्ज होते ही पुलिस ने घनश्याम और उसके भाई गिरफ्तार कर लिया।

 
शादी के तीन दिनों बाद ही महिला के कथित पति के सामने आने और नए पति के गिरफ्तार करने की खबर जंगल में आग की तरह पूरे शहर में फैल गई। खबर फैलने पर बांदा के ही दिनेश पांडेय एसपी शालिनी के पास पहुंचे और बताया कि पिछले महीने साध्वी मालती शुक्ला आदि ने एक लाख रुपये लेकर उनकी शादी निर्मला से कराई थी। शादी के तीसरे दिन ही निर्मला लाखों के जेवरात और नकदी लेकर फरार हो गई। इसके बाद निर्मला का कथित पति कुलदीप ने उन्हें धमकी देकर हजारों रुपये की वसूली की। दिनेश की बातेें सुनने के बाद पुलिस सारा माजरा समझ गई। जब उन्होंने निर्मला और उसके कथित पति व साध्वी से सख्ती से पूछताछ की तो पता चला कि इनलोगों ने करीब 18 युवकों को अपने जाल में फंसाकर लाखों की ठगी की है। पूरे गिरोह का संचालन छत्तीसढ़ से किया जा रहा था। इस गिरोह की सरगना निर्मला और उसका कथित पति साध्वी की मदद से लोगों को अपनी जाल में फंसाते थे। शादी के दो-तीन दिन बाद ये लोग रेप, अपहरण, जबरन शादी का आरोप लगा लाखों की रकम वसूल फरार हो जाते थे। पुलिस ने निर्मला, कुलदीप, साध्वी मालती, ममता द्विवेदी और निरंजन द्विवेदी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 यूपी: तीन दिन से भूखी लड़की ने जान दी, लिखा- भगवान ऐसा बाप-भाई किसी को न दे
2 खुद को सीएम का करीबी बताने वाले ‘बुंदेलखंड के योगी’ ने की फायरिंग, गिरफ्तार
3 दिल्ली मेरी दिल्ली: बिहारी बाबू पर घमासान
ये पढ़ा क्या?
X