ताज़ा खबर
 

एंटी रोमियो स्क्वॉड: हिंदू युवा वाहिनी के 1 दर्जन युवकों ने स्कूटी सवार युवती से की छेड़छाड़ और मंगेतर की कर दी पिटाई

शहर में खुद को हिंदू युवा वाहिनी का सदस्य बता रहे करीब आधा दर्जन युवकों ने मंगेतर के साथ स्कूटी में बैठकर घर जा रही युवती के साथ कथित तौर पर छेड़छाड़ की और विरोध करने पर मंगेतर की पिटाई की।

Author मेरठ | April 14, 2017 1:07 AM
हिंदू युवा वाहिनी के 1 दर्जन युवकों ने स्कूटी सवार युवती से की छेड़छाड़ और मंगेतर की कर दी पिटाई

शहर में खुद को हिंदू युवा वाहिनी का सदस्य बता रहे करीब आधा दर्जन युवकों ने मंगेतर के साथ स्कूटी में बैठकर घर जा रही युवती के साथ कथित तौर पर छेड़छाड़ की और विरोध करने पर मंगेतर की पिटाई की। यही नहीं, युवकों ने मौके पर पहुंचे मंगेतर के भाई को भी पीटा और पकड़ कर थाने ले गए। पुलिस ने भी दोनों भाइयों को हवालात में डाल कर उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की कार्रवाई शुरू कर दी। लेकिन युवती ने थाने पहुंच कर पुलिस को जब असलियत बताई तब पुलिस ने दोनों भाइयों को छोड़ कर युवती की तहरीर पर आरोपी हमलावर युवकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर एक को गिरफ्तार किया।

थाना मेडिकल प्रभारी धर्मेन्द्र कुमार ने बताया कि बुधवार रात खुद को हिंदू युवा वाहिनी कार्यकर्ता बता कर रहे करीब आधा दर्जन युवक दो युवकों हरीश राणा और अवनीश को थाने लेकर आए। उनका आरोप था कि दोनों युवक छेड़खानी कर रहे थे। इसी दौरान वह युवती भी थाने पहुंच गई जिसको छेड़ने का आरोप दोनों युवकों पर लगाया जा रहा था। युवती की बात सुनने के बाद पुलिस ने दोनों युवकों को छोड़ कर आरोपी हमलावर युवकों अंकित और सागर के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया। थाना प्रभारी के अनुसार मुख्य आरोपी अंकित को गिरफ्तार कर सागर की तलाश की जा रही है।

हरीश ने बताया कि उनकी मंगेतर एक निजी बैंक में काम करती है। बैंक में देर हो जाने पर बुधवार रात करीब नौ बजे वह अपनी मंगेतर को स्कूटी से उसके घर पर छोड़ने के लिए जा रहे थे। रास्ते में खड़े करीब आधा दर्जन युवकों ने उन्हें रोका और खुद को हिंदू युवा वाहिनी का कार्यकर्ता बताते हुए एंटी रोमियो अभियान के नाम पर उनकी मंगेतर से छेड़छाड़ की। विरोध करने पर आरोपी युवकों ने उनको और मौके पर पहुंचे उनके भाई अवनीश को पीटा और पीटते हुए ही थाने ले गए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App