ताज़ा खबर
 

बिहार: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर युवक ने भरी सभा में फेंका चप्पल, पुलिस ने किया गिरफ्तार

बिहार की राजधानी पटना में एक युवक ने सीएम नीतीश कुमार को निशाना बनाते हुए चप्पल फेंका। हालांकि, मंच से दूरी होने की वजह से चप्पल पहले ही गिर गया। पुलिस ने युवक को हिरासत में ले लिया है।

छात्र समागम कार्यक्रम के दौरान मंच पर उपस्थित नीतीश कुमार व अन्य (Photo: PTI)

बिहार की राजधानी पटना स्थित बापू सभागार में गुरुवार (11 अक्टूबर) को  सीएम नीतीश कुमार के उपर चप्पल फेंकने का मामला सामने आया है। जदयू के छात्र संगठन ‘छात्र समागम’ द्वारा आयोजित कार्यक्रम का उद्घाटन करने के बाद सीएम नीतीश मंच पर बैठे हुए थे। वहां उनके साथ पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह समेत कई वरिष्ठ नेता मौजूद थे। इसी दौरान वहां मौजूद एक युक ने मंच की तरफ चप्पल फेंका। हालांकि, यह चप्पल मंच तक नहीं पहुंच सका। चप्पल फेंकते ही सभागार में मौजूद सिपाहियों ने युवक को हिरासत में ले लिया। चप्पल फेंकने वाले युवक की पहचान बिहार के औरंगाबाद जिले के रहने वाले चंदन के रूप में की गई है। चप्पल फेंकने के बाद चंदन ने आरक्षण के विरोध में नारेबाजी भी की। वह खुद को सवर्ण सेना का सदस्य बता रहा था। उसने कहा कि आरक्षण की वजह से हमारे जैसे युवाओं को नौकरी नहीं मिल रही है। हम बेरोजगार हैं। हमारे जैसे बेरोजगार आखिर जाएं तो कहां जाएं? नीतीश कुमार को आरक्षण समाप्त कर देना चाहिए।

बता दें कि बिहार में कुछ समय से आरक्षण को लेकर लगातार प्रदर्शन हो रहे हैं। कुछ दिनों पहले एससी-एसटी एक्ट में संशोधन के खिलाफ भारी संख्या में सवर्ण सेना के सदस्य सड़क पर उतरे थे, जिनके उपर पुलिस ने जमकर लाठियां भांजी थी। सवर्ण सेना के लोग भारत बंद के दौरान गिरफ्तार किए गए लोगों को रिहा करने की मांग कर रहे थे। हाथों में तख्तियां लिए वे प्रदर्शन कर रहे थे। सीएम नीतीश से मिलने जा रहे थे। इस दौरान पुलिस ने पहले उन्हें रोकने की कोशिश की और फिर लाठी चार्ज कर दिया था। इस लाठी चार्ज की घटना में सवर्ण सेना के कई सदस्य गंभीर रुप से घायल हो गए थे।

अब तक आरक्षण के विरोध में सवर्ण सेना के सदस्यों द्वारा प्रदर्शन किया जा रहा था। लेकिन यह पहली बार है जब सीएम नीतीश कुमार को निशाना बनाया गया है। चप्पल फेंकने के बाद पूरे सभागार में अफरा-तफरी का माहौल कायम हो गया। कुछ देर के लिए कार्यक्रम भी बाधित हो गया। पुलिस ने तत्काल कार्रवाई करते हुए आरोपी युवक को हिरासत में ले लिया और उसे अपने साथ लेकर चली गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App