ताज़ा खबर
 

केंद्रीय मंत्री अनंत हेगड़े ने ध्रुवीकरण को बताया असली लोकतंत्र

बता दें कि कुछ समय पहले अनंत हेगड़े ने कहा था कि भारतीय जनता पार्टी देश के संविधान को बदलेगी और उसमें से 'धर्मनिरपेक्ष' शब्द हटा लिया जाएगा।

केंद्रीय मंत्री अनंनत कुमार हेगड़े। फोटो सोर्स- इंडियन एक्स्प्रेस

केंद्रीय मंत्री अनंत हेगड़े ने बयान दिया है कि राजनीति में लोगों का ध्रुवीकरण करना ही असली लोकतंत्र है। पूर्व में भी अपने बयानों से हंगामा मचाने वाले अनंत हेगड़े ने ये भी कहा है कि, ‘उन्हें उम्मीद है कि कर्नाटक विधानसभा चुनावों में ध्रुवीकरण होगा जिससे तुष्टीकरण की राजनीति करने वाली कांग्रेस पार्टी को हराया जा सके।’ भारतीय जनता पार्टी के अनंत कुमार हेगड़े ने ये बयान तटीय कर्नाटक में अपनी जनसुरक्षा यात्रा के दौरान दिया है। बता दें कि तटीय कर्नाटक साम्प्रदायिक रूप से काफी संवेदनशील माना जाता है। रैली के दौरान जब उनसे एक पत्रकार ने पूछा कि क्या ये राज्य में अब तक का सबसे ज्यादा ध्रुवीकरण करने वाला चुनाव है? इसके जवाब में हेगड़े ने कहा- बिल्कुल, ऐसा ही है, मुझे उम्मीद है कि ऐसा ही होगा। य़े जवाब सुन रिपोर्टर ने मंत्री से दोबारा पूछा कि आखिर आप इन चुनावों में ध्रुवीकरण की उम्मीद क्यों कर रहे हैं? इस सवाल के जवाब में अनंत हेगड़े ने कहा- ‘हमारे हिंदू लोग इस तरह की तुष्टीकरण की राजनीति से तंग आ चुके हैं। उदाहरण के तौर पर, कुछ दिनों पहले उनलोगों ने ये कहते हुए मुसलमानों पर से कई केस वापस ले लिये कि वो लोग निर्दोष हैं। वहीं हजारों हिंदू कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया गया। लेकिन मुख्यमंत्री ने ये कभी नहीं कहा कि हिंदू भी निर्दोष हैं।’

जब अनंत हेगड़े से ये पूछा गया कि क्या ध्रुवीरण के चलते लोकतंत्र को नुकसान नहीं हो रहा? उन्होंने कहा- ‘यही असली लोकतंत्र है। अच्छे काम के लिए लोगों का ध्रुवीकरण करना ही लोकतंत्र है। यही राजनीति है।’ बीजेपी केवल हिंदुओं का क्यों सोचती है के सवाल पर हेगड़े ने कहा- टहां हम सिर्फ हिंदुओं का सोचते हैं। ये हमारी फर्ज है। इतिहास गवाह है कि लंबे समय से कांग्रेस ने हिंदुओं की भावनाओं और उनके हितों को नजरअंदाज किया है।’

बता दें कि कुछ समय पहले अनंत हेगड़े ने कहा था कि भारतीय जनता पार्टी देश के संविधान को बदलेगी और उसमें से ‘धर्मनिरपेक्ष’ शब्द हटा लिया जाएगा। इस बयान पर काफी हंगामा हुआ था। इस बयान पर जब उनसे सवाल हुआ तो उन्होंने कहा कि मैं संविधान और बाबा साहेब अंबेडकर का सम्मान करता हूं। मैंने कुछ गलत नहीं कहा था लेकिन मीडिया ने मेरे बयान को गलत तरीके से पेश किया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App