ताज़ा खबर
 

हॉस्‍टल में लड़की के बगल में पड़ा हुआ था 5 फुट लंबा कोबरा, बुलाना पड़ा सपेरा

ये महिला हॉस्टल ओडिशा के मयूरभंज ​जिले के बरिपदा क्षेत्र में स्थित है। लड़की की एक सहेली ने लड़की के साथ बिस्तर पर एक सांप को देखा। ये सांप कोबरा प्रजाति का था। सांप की लंबाई करीब 5 फुट और फन बेहद विशाल था।

ओडिशा के मयूरभंज में कोबरा सांप को पकड़ते कृष्ण चंद्र गोछायत। फोटो- एएनआई

रात में गहरी नींद मे सोते वक्त, अचानक कोई आपको बता दे कि आपके बिस्तर पर एक पांच फुट लंबा जहरीला कोबरा सांप भी सोया हुआ है तो अपनी होने वाली हालत का अनुमान साफतौर पर आप लगा सकते हैं। कुछ ऐसा ही वाकया ओडिशा के एक गर्ल्स हॉस्टल में हुआ। जहां पर रहने वाली लड़की को जब पता चला कि उसके बगल में एक पांच फुट लंबा कोबरा सांप सोया हुआ है तो उसकी चीख निकल गई।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, वाकया रविवार (9 सितंबर) का है। महिला हॉस्टल के अपने कमरे में एक लड़की अपने बिस्तर पर गहरी नींद सोई हुई थी। इसी दौरान लड़की की एक सहेली ने लड़की के साथ बिस्तर पर एक सांप को देखा। ये सांप कोबरा प्रजाति का था। सांप की लंबाई करीब 5 फुट और फन बेहद विशाल था। ये महिला हॉस्टल ओडिशा के मयूरभंज ​जिले के बरिपदा क्षेत्र में स्थित है।

लड़की ने किसी तरह से अपनी सहेली को सांप के बारे में जानकारी दी। बिस्तर पर सांप होने की खबर मिलते ही लड़की ने बिस्तर को छोड़ दिया और चीखते हुए बाहर की तरफ भागी। इसके बाद दोनों लड़कियों ने हॉस्टल के प्रशासन को इस पूरे वाकये की जानकारी दी। हॉस्टल में सांप होने की खबर मिलते ही महिला हॉस्टल ने एक नामी सपेरे से संपर्क किया।

हॉस्टल में सांप निकलने की सूचना पर पहुंचे सपेरे ने काफी मशक्कत के बाद एक जाल की मदद से सांप को दबोच लिया। सांप अभी युवावस्था में था और बेहद जहरीला था। हालांकि व्यस्क कोबरा आमतौर पर इंसानों पर हमला नहीं करता है। वे सिर्फ उकसाने पर या आत्मरक्षा में इंसानों पर हमला करते हैं।

कोबरा को पकडने वाले कृष्ण चंद्र गोछायत ने एएनआई को बताया कि सांप को बाद में सिमिपाल बायोस्फियर में छोड़ दिया गया। ये जगह सांपों और सरीसृप वर्ग के जीवों के रहने के लिए अनुकूल है। सांप को पकड़ने वाले कृष्ण चंद्र गोछायत जाने-माने वन्य जीव विशेषज्ञ हैं। वह ओडिशा के मयूरभंज जिले के उठानी नुआगांव में रहते हैं। कृष्ण चंद्र अब तक 5000 से ज्यादा सांपों को बचा चुके हैं। वैसे बता दें कि व्यस्क कोबरा वन्यजीव संरक्षण अधिनियम, 1972 के तहत संरक्षित जीवों की श्रेणी में आता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App