PNB scam: Kejriwal said, Congress and BJP are equally corrupted - Jansatta
ताज़ा खबर
 

पीएनबी घोटाला: केजरीवाल ने कहा, कांग्रेस और भाजपा समान रूप से भ्रष्ट

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को कहा कि लोगों ने 2014 में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को इसलिए सत्ता सौंपी थी, क्योंकि वे कांग्रेस को हटाकर बदलाव चाहते थे, लेकिन 'भाजपा उन्हीं घोटालों को आगे ले जा रही है, जिनकी शुरुआत कांग्रेस के राज में हुई थी।'

Author नई दिल्ली | February 18, 2018 10:18 PM
दिल्ली चीफ मिनिस्टर अरविंद केजरीवाल।(फाइल फोटो)

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को कहा कि लोगों ने 2014 में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को इसलिए सत्ता सौंपी थी, क्योंकि वे कांग्रेस को हटाकर बदलाव चाहते थे, लेकिन ‘भाजपा उन्हीं घोटालों को आगे ले जा रही है, जिनकी शुरुआत कांग्रेस के राज में हुई थी।’ पंजाब नेशनल बैंक में हुए घोटाले के संदर्भ में आम आदमी पार्टी (आप) के नेता केजरीवाल ने संवाददाताओं से यहां कहा, एक व्यक्ति एक बैंक को 11 हजार करोड़ रुपये का चूना लगाकर देश से भाग जाता है। यह महज इत्तेफाक नहीं है। निश्चित तौर पर इसमें कई एजेंसियां शामिल हैं।

हीरा कारोबारी नीरव मोदी द्वारा किए गए 1.8 अरब डॉलर के घपले के संदर्भ में केजरीवाल ने कहा, “यह शीर्ष स्तर से बिना हरी झंडी मिले संभव नहीं है। केंद्र सरकार में शीर्ष (पदों) पर बैठे लोग इसमें शामिल हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि आम लोग अब सार्वजनिक बैंकों में जमा अपने धन को लेकर परेशान हैं।

उन्होंने कहा, लोग आते हैं और मुझसे अपने धन की सुरक्षा के बारे में पूछते हैं। केंद्र को जवाब देना चाहिए कि नीरव मोदी और विजय माल्या अभी तक गिरफ्तार क्यों नहीं हुए। केजरीवाल ने कहा, “भाजपा कह रही है कि घोटाला 2011 में शुरू हुआ। कांग्रेस कह रही है यह बाद में शुरू हुआ..कांग्रेस के शासनकाल में शुरू हुए घोटाले आज भी जारी हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा, “पहले कांग्रेस (लोगों का) धन हड़पती थी। अब भाजपा यही काम कर रही है। लोगों ने बदलाव के लिए भाजपा को चुना, लेकिन इसने सत्ता में आने के बाद अभी तक एक भी कांग्रेस सदस्य (घोटालों में कथित रूप से शामिल) को जेल नहीं भेजा है, क्योंकि दोनों ही पार्टियां समान रूप से भ्रष्ट हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App