ताज़ा खबर
 

पकौड़े वाले बयान से खुश नहीं पीएम मोदी के कुक? जानिए क्‍या कहा

पीएम मोदी ने जनवरी में एक टीवी चैनल को साक्षात्कार दिया। इसमें उन्होंने राजनीति, अर्थव्यवस्था, अंतर्राष्ट्रीय मामले, कूटनीति और रोजगार के अवसर पैदा करने वाले मुद्दों पर बात की।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जब भी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के दौरे पर आते हैं तो, डीजल लोकोमोटिव वर्कशॉप (DLW) के गेस्टहाउस में ठहरते हैं। (ANI)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस साल जनवरी में एक टीवी चैनल को साक्षात्कार दिया। इसमें उन्होंने राजनीति, अर्थव्यवस्था, अंतर्राष्ट्रीय मामले, कूटनीति और रोजगार के अवसर पैदा करने वाले मुद्दों पर बात की। इस दौरान पीएम का साक्षात्कार ले रहे पत्रकार सुधीर चौधरी ने उनसे रोजगार पैदा करने के उनके वादे को लेकर सवाल पूछा तब प्रधानमंत्री ने पकौड़ा तलने का उदाहरण दिया। उन्होंने कहा, ‘अगर जी टीवी के बाहर कोई व्यक्ति पकौड़ा बेच रहा है तो क्या वह रोजगार होगा या नहीं?’ पकौड़ा तलने को रोजगार बताने वाले बयान को लेकर मोदी की तब खूब आलोचना हुई। विपक्ष ने उनपर अपने कार्यकाल में रोजगार के प्रत्यक्ष अवसर नहीं पैदा करने के आरोप लगाए।

अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कुक राजीव बटवाल ने पीएम के पकौड़े से जुड़े बयान पर सफाई दी है। वाराणसी में उन्होंने न्यूज एजेंसी एएनआई को अपने उस बयान पर सफाई दी है जिसमें मीडिया में बताया कि उन्होंने कहा था कि वह पीएम के पकौड़ा वाले बयान से प्रभावित नही हैं। बटवाल ने कहा, ‘मैं इसके बारे में कुछ नहीं जानता। उन्होंने (मीडिया) मुझसे पूछा कि मैं कब से यहां काम कर रहा हूं। मैंने जवाब दिया कि मैं पिछले दस सालों से काम कर रहा हूं। मैं पकौड़े वाले बयान पर हो रही राजनीति के बारे में कुछ नहीं जानता हूं। जो भी प्रकाशित हुआ वो गलत है।’

बता दें कि कुछ घंटे पहले मीडिया में खबरें आईं कि मोदी के कुक उनके पकौड़े वाले बयान से खुश नहीं हैं। जानना चाहिए कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जब भी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के दौरे पर आते हैं तो, डीजल लोकोमोटिव वर्कशॉप (DLW) के गेस्टहाउस में ठहरते हैं। साल 2014 में प्रधानमंत्री बनने के बाद से लेकर अभी तक उनके हर दौरे पर गेस्ट हाउस में राजीव बटवाल ने ही पीएम मोदी के लिए खाना बनाया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App