ताज़ा खबर
 

पीएम मोदी के काफिले में कितने वाहनों का इस्तेमाल, PMO ने जवाब देने से किया इनकार

सूचना के अधिकार के तहत जानकारी मांगना हर व्यक्ति का हक है लेकिन पीएमओ ने मोदी से जुड़ी एक जानकारी देने से इनकार कर दिया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

सूचना के अधिकार के तहत जानकारी मांगना हर व्यक्ति का हक है लेकिन पीएमओ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जुड़ी एक जानकारी देने से इनकार कर दिया है। दरअसल, आरटीआई के तहत प्रधानमंत्री के काफिले में वाहनों की संख्या के संबंध में मांगी गई जानकारी की सूचना देने से प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने साफ इंकार कर दिया है।

गौरतलब है कि लखनऊ की आरटीआई एक्टिविस्ट डॉ नूतन ठाकुर ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के काफिले में इस्तेमाल किए जा रहे वाहनों के संबंध में आरटीआई के तहत जानकारी मांगी थी। डॉ.नूतन ठाकुर ने वाहनों की संख्या की सूचना के साथ इन वाहनों के प्रकार, वाहनों की खरीद के वर्ष और वाहनों के दाम से जुड़ी जानकारियां भी मांगी थी। साथ ही नूतन ने आरटीआई में प्रधानमंत्री की सुरक्षा में लगे वाहनों पर 2014 से लेकर वर्ष 2017 तक ईंधन पर होने वाले खर्च से जुड़ी जानकारी भी मांगी थी। लेकिन नूतन को ये तमाम जानकारियां देने से साफ इंकार कर दिया गया।

पीएमओ के जन सूचना अधिकारी प्रवीण कुमार ने यह कहते हुए सूचना देने से मना कर दिया कि यह मामला स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (एसपीजी) से जुड़ा है जो आरटीआई एक्ट की धारा 24 में निषिद्ध है। लेकिन ऐसा नहीं हैं कि सरकार के स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप से जुड़े मामलों में आरटीआई के तहत जानकारियां नहीं दी जाती है। इससे पहले भी ऐसी जानकारियां दी गई है।

उपराष्ट्रपति सचिवालय ने आरटीआई पर जवाब देते हुए बताया था कि उपराष्ट्रपति कार्यालय के पास कुल 9 वाहन हैं। उन्होंने इन वाहनों के मूल्य तथा पिछले 4 वर्षो में ईंधन के उपयोग की भी सूचना दी थी लेकिन पीएमओ शायद इसके लिए राज़ी नहीं हैं यहीं कारण है अधिकारी इस मामले में जानकारी साझा नहीं करना चाह रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App