ताज़ा खबर
 

पीएम मोदी की महत्वाकांक्षी योजना पर चल सकती है कैंची, इन स्थितियों में नहीं मिलेगा मेडिकल खर्च

प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत सबसे ज्यादा भुगतान मोतियाबिंद ऑपरेशन के लिए किया जाता है। पहले तीन महीनों यानी 24 नवंबर 2018 तक ऐसे 6900 केस सामने आए, जबकि नेशनल ब्लाइंडनेस कंट्रोल प्रोग्राम के तहत यह सुविधा फ्री में दी जा रही है।

Author Updated: February 26, 2019 9:12 PM
फोटो सोर्सः इंडियन एक्सप्रेस

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महत्वाकांक्षी ‘आयुष्मान भारत- प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना’ की लॉन्चिंग के बाद पहली बार इसके तहत मिलने वाली सुविधाओं में कमी पर विचार हो रहा है। नेशनल हेल्थ अथॉरिटी (NHA) की इस योजना के तहत मोतियाबिंद सर्जरी, डायलिसिस और नॉर्मल डिलिवरी पर होने वाले खर्च की भरपाई की सुविधा को हटाया जा सकता है। इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में अथॉरिटी के सीईओ डॉक्टर इंदु भूषण ने कहा, ‘योजना को अब 150 दिन पूरे हो चुके हैं। इस दौरान हमने सीखा कि पैकेज में कटौती की जरूरत है, ताकि दो अलग-अलग योजनाओं में एक ही सुविधा की पुनरावृत्ति न हो।’

उन्होंने कहा, ‘जो सुविधाएं पहले से चल रही योजनाओं में मिल रही है उन्होंने दूसरे पैकेज में कवर करने की कोई जरूरत नहीं है। हम पैकेजेस की समीक्षा कर रहे हैं।’ रिपोर्ट के मुताबिक प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत सबसे ज्यादा भुगतान मोतियाबिंद ऑपरेशन के लिए किया गया। पहले तीन महीनों यानी 24 नवंबर 2018 तक ऐसे 6900 केस सामने आए, जबकि नेशनल ब्लाइंडनेस कंट्रोल प्रोग्राम के तहत यह सुविधा फ्री में दी जा रही है। अकेले 2017-18 में इसके अंतर्गत 15,91,977 सर्जरी फ्री में की गई थी।

 वीडियोः BJP 29 को मनाएगी सर्जिकल स्ट्राइक की दूसरी वर्षगांठ

 

इसी तरह नॉर्मल डिलीवरी के मामलों को भी जन आरोग्य योजना से बाहर करने की तैयारी चल रही है क्योंकि मातृ एवं बाल स्वास्थ्य के लिए पहले से राष्ट्रीय योजनाएं चल रही हैं। हालांकि ज्यादा जोखिम वाले डिलीवरी के केस आगे भी कवर किए जाते रहेंगे। उल्लेखनीय है कि 2016 में डायलिसिस को पहले ही बाहर किया जा चुका है क्योंकि यह सुविधा मुफ्त उपलब्ध है। योजना पर हो रहे खर्च की समीक्षा के लिए अथॉरिटी ने नेशनल फार्मास्यूटिकल प्राइसिंग अथॉरिटी से भी इंप्लांट्स और दूसरी डिवाइसेस के लिए उचित कीमत तय करने की बात की है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 IAF Strike: उमर अब्दुल्ला ने की वायुसेना की तारीफ, कहा- अब भारत-पाक के बीच जंग का खतरा बढ़ा
2 AAP नेता कपिल मिश्रा की कविता पर विवाद जारी, DOT अधिकारी ने दिल्ली पुलिस को लिखा शिकायती पत्र
3 Delhi: मेट्रो में सवारी कर इस्कॉन मंदिर पहुंचे PM नरेंद्र मोदी, वायरल हुई बच्चे से खेलने की तस्वीर