ताज़ा खबर
 

पीएम मोदी आज पंजाब में करेंगे मिशन 2019 का आगाज, गुरदासपुर में होगी पहली रैली

लोकसभा चुनाव के मद्देनजर पीएम मोदी मिशन 2019 का आगाज आज पंजाब में करेंगे। इसके तहत पहली रैली गुरदासपुर में होगी। माना जा रहा है कि पीएम मोदी रैली के दौरान गुरदासपुर में रावी नदी पर दो हाई लेवल ब्रिज बनाने की परियोजना का औपचारिक ऐलान कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

लोकसभा चुनाव के मद्देनजर पीएम मोदी मिशन 2019 का आगाज आज पंजाब में करेंगे। इसके तहत पहली रैली गुरदासपुर में होगी। इस रैली में शामिल होने के लिए पीएम मोदी गुरुवार सुबह जालंधर पहुंच गए। माना जा रहा है कि पीएम मोदी रैली के दौरान गुरदासपुर में रावी नदी पर दो हाई लेवल ब्रिज बनाने की परियोजना का औपचारिक ऐलान कर सकते हैं। केंद्र सरकार ने 2 दिन पहले इस प्रोजेक्ट को मंजूरी दी है। इस रैली के लिए पूर्व सांसद विनोद खन्ना की पत्नी कविता गुरदासपुर पहुंच चुकी हैं। इनके अलावा सुखबीर बादल, केंद्रीय मंत्री प्रभात झा और कैप्टन अभिमन्यु समेत कई वरिष्ठ नेता रैली में शामिल होंगे। हालांकि, सेहत ठीक नहीं होने के कारण पूर्व सीएम प्रकाश सिंह बादल नहीं आएंगे।

चुनाव से पहले 100 रैली करेंगे पीएम मोदी : सूत्रों के मुताबिक, 2019 के लोकसभा चुनावों से पहले बीजेपी ने 20 राज्यों में मोदी की 100 रैलियां कराने की योजना बनाई है। गुरदासपुर से इसका आगाज किया जा रहा है। गौरतलब है कि 2017 के पंजाब विधानसभा चुनावों में कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के बाद अकाली-भाजपा गठबंधन तीसरे नंबर पर था। अकाली दल की पकड़ ग्रामीण इलाकों में है। वहीं, बीजेपी कस्बे और शहरी इलाकों में मजबूत मानी जाती है। विश्लेषकों का कहना है कि नवजोत सिंह सिद्धू के कांग्रेस में शामिल होने से पंजाब में बीजेपी कमजोर हुई है।

पंजाब से ही शुरुआत क्यों? : विश्लेषकों का मानना है कि पंजाब से बीजेपी के मिशन 2019 की शुरुआत की वजह पिछले लोकसभा चुनाव का प्रदर्शन और विधानसभा चुनाव में मिली हार हो सकती है। 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी 13 में से सिर्फ 2 सीट जीत पाई थी। वहीं, उसके सहयोगी संगठन अकाली दल को भी 2 सीटों पर ही जीत मिली थी। पूरे देश में खराब रेकॉर्ड के बावजूद कांग्रेस यहां 3 लोकसभा सीटें जीतने में सफल रही थी। इसके अलावा विधानसभा चुनाव में बीजेपी-अकाली गठबंधन को करारी हार का सामना करना पड़ा था और पार्टी सीटें जीतने के मामले में तीसरे नंबर पर थी। 117 सीट वाली पंजाब विधानसभा में कांग्रेस ने 77 सीटें जीती थीं। वहीं, राज्य में पहली बार चुनाव लड़ रही आम आदमी पार्टी के खाते में 20 सीटें गई थीं। इसके अलावा बीजेपी-अकाली गठबंधन महज 18 सीटों पर ही सिमट गया था।

रैली में कॉरिडोर का क्रेडिट लेने की भी होड़ : सूत्रों के मुताबिक, पंजाब में पाकिस्तान के करतारपुर तक बनने वाले कॉरिडोर को लेकर क्रेडिट लेने की होड़ मची हुई है। पंजाब सरकार के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू पाकिस्तान जाकर कॉरिडोर पर पहल करने का क्रेडिट खुद को देते हैं। ऐसे में अकाली-भाजपा में खलबली है। माना जा रहा है कि इस रैली में भी करतारपुर कॉरिडोर का क्रेडिट लेने की होड़ दिखाई दे सकती है।

 

10 किमी का इलाका किया गया सील : रैली के लिए 1.75 लाख स्क्वॉयर फीट का पंडाल बनाया गया है। वहीं, 25 हजार कुर्सियां लगाई गई हैं। इसके अलावा शहर के 10 किमी इलाके को सील कर दिया है। सुरक्षा के लिए पंजाब पुलिस और पंजाब आर्म्ड फोर्स के 3500 जवान तैनात किए गए हैं।

2014 में ऐसे थे लोकसभा चुनाव के नतीजे

पार्टी जीतीं सीटें
बीजेपी 2
कांग्रेस 3
शिरोमणि अकाली दल 4
आम आदमी पार्टी 4
कुल सीटें 13

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App