PM मोदी ने तेजस्वी से पूछा लालू यादव की सेहत का हाल, मुकेश साहनी से बोले- आप तो दुबले हो गए; जातिगत जनगणना पर चर्चा के दौरान

PM Modi Chat With Tejashwi Yadav: जातिगत जनगणना के मुद्दे पर बिहार का एक प्रतिनिधिमंडल प्रधानमंत्री से मुलाकात करने दिल्ली पहुंचा था। नीतीश कुमार की अगुवाई में इस प्रतिनिधि मंडल में 10 दलों के 11 नेता शामिल थे।

PM Modi Chat With Tejashwi Yadav
PM Modi Chat With Tejashwi Yadav: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज बिहार के प्रतिनिधिमंडल से की बातचीत। Photo Source- ANI and Express

PM Modi Chat With Tejashwi Yadav: जातिगत जनगणना के मुद्दे पर बिहार का एक प्रतिनिधिमंडल प्रधानमंत्री से मुलाकात करने दिल्ली पहुंचा था। नीतीश कुमार की अगुवाई में इस प्रतिनिधि मंडल में 10 दलों के 11 नेता शामिल थे। मीटिंग के दौरान जातिय जनगणना के अलावा भी कुछ बाते हुईं। NDTV की रिपोर्ट के अनुसार इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जब तेजस्वी यादव (PM Modi Chat With Tejashwi Yadav) से मिले तो उन्होंने RJD प्रमुख लालू यादव की सेहत का हाल चाल लिया। उन्होंने तेजस्वी से कहा कि हमारी यही कामना है कि वह जल्द से जल्द ठीक हो जाएं।

इस दौरान उनका आमना-सामना जीतन राम मांझी से हो गई तो उन्होंने हल्के फुल्के अंदाज में कहा कि आप तो मास्क लगाकर आए हैं, आपका मुस्कुराता हुआ चेहरा कैसे देखें। इस पर नीतीश कुमार ने जवाब देते हुए कहा कि मास्क लगाने की गाइडलाइन्स तो आप ही के द्वारा दी गई है। नीतीश कुमार ने प्रतिनिधि मंडल की अगुवाई करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सभी सदस्यों का परिचय कराया।

परिचय कराते हुए नीतीश कुमार, मुकेश सहनी के पास पहुंचे। उन्हें देखते ही नीतीश कुमार ने कहा कि अरे आप तो काफी दुबले हो गए हैं। क्या वजन घटा रहे हैं। मल्लाह की तरफ से प्रधानमंत्री को चांदी की मछली भेंट की गई, मछली को देखते ही पीएम बोले, यह उपहार तो बहुत शुभ होता है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बिहार के नेताओं की पीएम मोदी से विस्तार से बातचीत हुई। पीएम ने इस दौरान उन सभी की बात को एक-एक कर के ध्यान से सुना। मीटिंग के बाद बिहार सीएम और तेजस्वी जब बाहर आए, तो साथ में आकर पत्रकारों से बात की। कुमार ने बताया कि जाति आधारित जनगणना से विकास योजनाओं को प्रभावी ढंग से तैयार करने में मदद मिलेगी। तेजस्वी के अनुसार, प्रधानमंत्री मोदी ने उनकी बात धैर्य से सुनी। इस मामले पर प्रधानमंत्री के रुख के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि मोदी ने इसे खारिज नहीं किया और हरेक की बात सुनी।

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने कहा कि हमने प्रधानमंत्री से कहा कि हर हालत में जातिगत जनगणना कराएं, ये ऐतिहासिक निर्णय होगा। उन्होंने बहुत गंभीरता से हमारी बात सुनी है इसलिए हमें लगता है कि जल्दी ही कोई निर्णय होगा।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट