ताज़ा खबर
 

दिल्ली के पुलिस कमिश्नर बीएस बस्सी बोले – बलात्कारियों को गोली मारने में खुशी होगी बशर्ते…

दिल्ली के पुलिस कमिश्नर बीएस बस्सी ने कहा कि उन्हें बलात्कारी को गोली मारने या पिर फांसी पर लटकाने में खुशी होगी बशर्ते संविधान इसकी इजाजत दे।
Author नई दिल्ली | January 5, 2016 02:21 am
दिल्ली पुलिस कमिश्नर बीएस बस्सी (पीटीआई फाइल फोटो)

दिल्ली के पुलिस आयुक्त बीएस बस्सी ने सोमवार को कहा कि यदि संविधान मौके पर गोली मारने या फांसी देने की इजाजत देता, तो दिल्ली पुलिस महिलाओं के खिलाफ जघन्य अपराध करने वालों के प्रति ऐसा करने से नहीं हिचकती। लेकिन हम मानवाधिकारों को लेकर प्रतिबद्ध हैं। उन्होंने दिल्ली में महिलाओं के खिलाफ अपराध के विश्लेषण से आंकड़ों का हवाला देते हुए बताया कि बलात्कार के मामलों को अंजाम देने वालों में 70 फीसदी लोग 21 से 35 वर्ष आयुवर्ग के हैं। वहीं 60 से 65 फीसदी पीड़िता 15 से 30 साल आयुवर्ग की हैं।

बस्सी ने दिल्ली पुलिस के सालाना संवाददाता सम्मेलन में बलात्कार के उन दो मामलों को उदाहरण के तौर पर जिक्र किया जिनमें एक पीड़िता दो माह की बच्ची थी और एक 80 साल की एक बूढ़ी महिला थी। उन्होंने कहा कि महिलाओं को आत्मरक्षा का प्रशिक्षण दिए जाने की जरूरत हैं। उन्होंने कहा कि मगरमच्छ के आंसू बहाने वाले लोग पुलिस की भूमिका की कभी सराहना नहीं करेंगे।

पुलिस आयुक्त ने कहा कि इस साल साल दिल्ली पुलिस सड़कों पर होने वाले अपराधों और जिला स्तर पर से निपटने के लिए जांच आधारित तरीके पर ध्यान केंद्रित करेगी। अब तक सड़कों पर होने वाले अपराध के प्रत्येक मामले को एक ‘ओपेन एंड शट’ आधार पर निपटा जाता है।

बस्सी ने कहा कि सेवानिवृत्ति के बाद यदि राष्ट्र की सेवा करने का अवसर दिया गया तो नहीं चुकूंगा। वह 29 फरवरी को सेवानिवृत्त हो रहे हैं। यह पूछे जाने पर कि सेवानिवृत्ति के बाद वह कौन सी पार्टी में शामिल होने जा रहे, बस्सी ने कहा, ‘‘29 फरवरी के बाद यह पता चलेगा।’’

शहर के लोग भाग्यशाली हैं कि पुलिस दिल्ली सरकार के तहत नहीं है

दिल्ली के पुलिस आयुक्त बीएस बस्सी ने कहा कि दिल्लीवासी भाग्यशाली हैं कि शहर की पुलिस दिल्ली सरकार के अधिकार क्षेत्र में नहीं है अन्यथा यह स्थानीय दबाव में दम तोड़ देती। उन्होंने दिल्ली पुलिस सालाना संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘किसी प्रधानमंत्री पर स्थानीय प्रभाव नहीं होता, किसी गृह मंत्री पर स्थानीय प्रभाव नहीं पड़ता लेकिन यदि दिल्ली पुलिस स्थानीय सरकार के तहत आती है तो उस पर स्थानीय प्रभाव पड़ेगा।’’

हालांकि उन्होंने केजरीवाल सरकार का कोई प्रत्यक्ष जिक्र नहीं किया जिसके साथ पिछले कुछ महीनों से दिल्ली पुलिस के संबंध अच्छे नहीं हैं। बस्सी ने कहा, ‘‘मौजूदा प्रणाली सर्वश्रेष्ठ है। किसी प्रधानमंत्री का दिल्ली में कोई हित तब तक निहित नहीं होता जब तक कि वह दिल्ली से जुड़े नहीं होते। मैंने अपने लंबे करियर में किसी प्रधानमंत्री को नहीं देखा कि उनका दिल्ली में स्थानीय हित है।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. D
    Dinesh Singh
    Jan 4, 2016 at 3:09 pm
    हा हा हा और ये जोकर दिल्ली का पुलिस कमिश्नर है. दसिल्ली वालो का दुर्भाग्य है ये.
    (0)(0)
    Reply
    1. K
      kabeera pandit
      Jan 5, 2016 at 6:49 am
      बहुत ी कहा सर j
      (0)(0)
      Reply