Photo of Uttar Pradesh CM Yogi Adityanath on the ticket of sapna chaudhary night - सपना चौधरी नाइट के टिकट पर सीएम योगी आदित्य नाथ की फोटो, भड़के बीजेपी नेता - Jansatta
ताज़ा खबर
 

सपना चौधरी नाइट के टिकट पर सीएम योगी आदित्य नाथ की फोटो, भड़के बीजेपी नेता

शो की टिकटों और पासों पर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तस्वीर छापी गई थी, जिसे लेकर बीजेपी के नेताओं और राज्य के मंत्रियों ने आपत्ति जताई है। कानपुर में सपना के शो का आयोजन यौन रोगों का इलाज करने वाले डॉक्टर आनंद झा ने कराया था।

सपना चौधरी और योगी आदित्यनाथ (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

बिग बॉस 11 की कंटेस्टेंट और हरियाणा की मशहूर डांसर सपना चौधरी के एक कार्यक्रम को लेकर विवाद खड़ा होता दिख रहा है। दरअसल, कानपुर में रविवार यानी 11 फरवरी को सपना चौथरी का एक शो आयोजित किया गया था। शो की टिकटों और पासों पर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तस्वीर छापी गई थी, जिसे लेकर बीजेपी के नेताओं और राज्य के मंत्रियों ने आपत्ति जताई है। कानपुर में सपना के शो का आयोजन यौन रोगों का इलाज करने वाले डॉक्टर आनंद झा ने कराया था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक डॉक्टर साहब को कुछ दिनों पहले यूपी सीएम द्वारा सम्मानित किया गया था, जिसके बाद उन्होंने इस उपलब्धि को सेलिब्रेट करने के लिए सपना चौधरी के शो का आयोजन किया। इसके साथ ही इस शो के लिए जो टिकटें और पास तैयार किए गए थे उसमें सीएम योगी और डॉक्टर झा की तस्वीर भी छापी गई थी। पास में इस बात की जानकारी दी गई थी कि डॉक्टर झा को सीएम ने उनके काम के लिए सम्मानित किया था। फोटो के साथ लिखा था, ‘माननीय श्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा डॉ. आनंद झा साहब को आयुर्वेद के क्षेत्र में योगदान के लिए सम्मानित किया गया।’

सपना चौधरी की टिकट पर सीएम योगी आदित्यनाथ की फोटो (फोटो सोर्स- यूट्यूब/स्क्रीनशॉट)

सपना चौधरी नाइट की टिकटों पर सीएम योगी की तस्वीर बीजेपी नेताओं को पसंद नहीं आई और उनके द्वारा इसका विरोध किया जा रहा है। नेताओं ने इसे आपत्तिजनक कहते हुए कहा कि वह इस मामले पर जांच कराएंगे। बीजेपी नेताओं का कहना है कि अगर कोई आइटम गर्ल अपना कार्यक्रम करती है और उसका कोई आयोजन कराए, अगर समाज अनुमति देता है तो कुछ गलत नहीं है, लेकिन अगर सीएम साहब की तस्वीर इस प्रकार के कार्यक्रम में लोग लगाने की बात करते हैं तो यह आपत्ति का कारण बन सकता है। बीजेपी नेताओं का कहना है कि कानपुर प्रशासन को पत्र लिखकर इस मामले में जांच की मांग की जाएगी। आपको बता दें कि जिस ग्राउंड पर यह कार्यक्रम हुआ, उसे कानपुर नगर निगम ने ही आयोजकों को उपलब्ध कराया था। निगम पर बीजेपी की मेयर प्रमिला पांडेय का कब्जा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App