ताज़ा खबर
 

Patna: इन्वर्टर ऑन करते वक्त इंजीनियरिंग के छात्र को लगा करंट, मौके पर तड़पकर तोड़ा दम

मृतक छात्र नोएडा के एक इंजीनियरिंग कॉलेज का छात्र था। उसके पिता डॉ. संजय एनएमसीएच के एड्स कंट्रोल विभाग में हैं जबकि उसकी मां एक वकील हैं।

प्रतीकात्मक तस्वीर। फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

पटना के कंकड़बाग में इंवर्टर के करंट से इंजीनियरिंग के छात्र अथर्व श्रेय की मौत हो गई । यह घटना मलाही पकडी चौक के ई-सेक्टर के ई-79 में मंगलवार शाम हुई। अर्थव यहां किराये पर रहता था। उसके घर में लगभग 3 फुट पानी जमा है। घर में पानी होने के कारण उसके घरवाले दूसरी जगह चले गये थे। शाम के समय वह घर देखने पहुंचा था। जब वह घर से वापस लौट रहा था तो उसकी नजर पानी में पड़े इंवर्टर पर गयी। इंवर्टर का स्वीच ऑन था। अर्थव ने इंवर्टर के पास जाकर स्वीच ऑफ करने की कोशिस की तभी जोर की आवाज हुई और छात्र दूर जाकर गिर गया। आसपास के लोग मौके पर जुटे और कंकड़बाग थाना और प्रशासन की मदद से छात्र को बाहर निकाला।

दिल्ली में रहता था छात्र:  दरअसल अर्थव नोएडा के एक इंजीनियरिंग कॉलेज का छात्र था। उसके पिता डॉ. संजय एनएमसीएच के एड्स कंट्रोल विभाग में हैं, उसकी मां उमा वकील हैं। इसी साल छात्र ने नोएडा के कॉलेज में एडमिशन लिया था। बता दें कि वह दिल्ली में था एकाएक दिल्ली से पटना अपने घर मंगलवार (1 अक्टूबर) को पहुंचा था। फिर शांम को घर की हालत देखने चला गया।

Gandhi Jayanti 2019 Live Updates: बापू ने कहा था- क्षमा करना तो ताकतवर की विशेषता है, पढ़िए उनके अनमोल विचार

 

Gandhi Jayanti Speech, Essay, Quotes: जब नेताजी ने दी बापू की उपाधि, पढ़ें गांधीजी का पूरा इतिहास

पोस्टमार्टम के लिए तैयार नहीं पिता: अर्थव के पिता उसकी शव देख कर फफक कर रोने लगें। उन्होंने सरकार को कोशते हुए कहा कि पानी ने बेटे की जान ले ली। सरकार और नगर निगम कुछ नहीं कर सके। यदि सरकार कुछ अच्छा की होती तो मुझे आज यह दिन नहीं देखना पड़ता । हालाकि अथर्व के परिजन शव का पोस्टमार्टम कराने को तैयार नहीं है। बता दें कि पिछले कुछ दिनों से पटना में लगतार बारिश के कारण पूरे शहर में पानी भर गया है। भारी बारिश के कारण के वहां 42 जान जा चुकी है। अभी  वहां बचाव कार्य जारी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X