ताज़ा खबर
 

पुलवामा के बाद भारत की 90 सरकारी वेबसाइट्स पर हुआ था हमला, लेकिन फेल हो गया पाकिस्तान

पुलवामा में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान द्वारा भारत की सरकारी वेबसाइटों को हैक करने की कोशिश की गई थी।

cyber crimeपाकिस्तान द्वारा भारत की सरकारी वेबसाइट्स को हैक करने की कोशिश फोटो सोर्सः इंडियन ए्क्सप्रेस

जम्मू- कश्मीर के पुलवामा में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी हमले के बाद पाकिस्तानी हैकरों ने भारत की 90 सरकारी वेबसाइटों को हैक करने की कोशिश की थी। अपनी पहचान जाहिर न करने की शर्त पर भारत के एक सुरक्षा अधिकारी ने हिंदुस्तान टाइम्स को बताया कि वेबसाइट के संचालन में कुछ असामान्य गतिविधियां नोटिस कीं जिनसे हमें वेबसाइट के हैक होने की शंका हुई। दूसरे अधिकारी ने बताया कि साइबर हमला इतना घातक था कि हमें साइबर एक्सपर्ट्स की मदद लेनी पड़ी। अधिकारियों ने बताया कि हमलावर फायरवॉल और सुरक्षा प्रणाली को तोड़ने में सफल नहीं हो पाए।

बांग्लादेश की नेटवर्क लाइन से हो रहा था साइबर हमलाः इस पूरी घटना में दिलचस्प बात यह रही कि साइबर अटैक में बांग्लादेश की नेटवर्क लाइन का इस्तेमाल किया गया। अधिकारियों ने बताया कि हमला जिस तरीके से किया गया था उससे हमें साइबर अटैक पर कोई शक नहीं है कि इसमें पाकिस्तान का हाथ था।

 

सभी विभाग अलर्ट परः साइबर हमले के बाद सरकार ने सभी विभागों को स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग सिस्टम का उल्लंघन न करने और सतर्क रहने के लिए कहा है। हालांकि इन साइबर हमलों के पीछे मुख्य कारण अभी तक पता नहीं चल सका है। नाम न छपने की शर्त पर सरकार के लिए काम करने वाले प्राइवेट सेक्टर के साइबर एक्सपर्ट ने कहा कि हमले के जवाबी कार्रवाई देने का फायदा भारत को हुआ लेकिन पाकिस्तान को इससे नुकसान हु्आ। हालांकि कन्फ्यूजन को बढ़ाने के लिए साइबर एक्सपर्ट्स ने एक और नया पैंतरा अपनाया। उन्होंने यह अफवाह फैलाई कि वह सरकारी वेबसाइट्स से जरूरी जानकारी निकाल ली गई है। हालांकि ऐसा कुछ नहीं हुआ।

Next Stories
1 सौतेली बेटी का रेप कर फरार था आरोपी, OTP की मदद से 2 महीने बाद पुलिस ने किया गिरफ्तार, जानें पूरा मामला
2 पूर्व एयर मार्शल बोले- आर्थिक रूप से पाक कमजोर, लेकिन डिफेंस डील करने में भारत से बेहतर
3 जल्‍द कॉकपिट में लौटना चाहते हैं अभिनंदन, मिलेगा पहला ‘भगवान महावीर अहिंसा पुरस्‍कार’
यह पढ़ा क्या?
X