शंकर सिंह वाघेला ने दी धमकी-पहले हिंदुओं और क्षत्रिय समुदाय को दिखाई जाए पद्मावती वरना होगा हिंसक प्रदर्शन - Padmavati row: Vaghela asks Bhansali to show film to Kshatriya community before release - Jansatta
ताज़ा खबर
 

शंकर सिंह वाघेला ने दी धमकी-पहले हिंदुओं और क्षत्रिय समुदाय को दिखाई जाए पद्मावती वरना होगा हिंसक प्रदर्शन

दीपिका पादुकोण, रणवीर सिंह और शाहिद कपूर जैसे कलाकारों से सजी फिल्म एक दिसंबर को रिलीज होगी।

पिछले हफ्ते (20 अक्टूबर) पद्मावती की थीम पर बनाई गई एक रंगोली को कथित रूप से नष्ट करने पर सूरत पुलिस ने पांच लोगों को गिरफ्तार किया था।

पूर्व कांग्रेस नेता शंकर सिंह वाघेला ने आगामी फिल्म ‘पद्मावती’ की रिलीज से पहले हिंदू एवं क्षत्रिय समुदाय के नेताओं के लिए स्क्रीनिंग कराने की मांग की, ताकि वह यह देख सकें कि क्या फिल्म में तथ्यों से छेड़छाड़ की गई है और एेसा ना करने पर हिंसक प्रदर्शनों की धमकी दी। क्षत्रिय समुदाय के नेता ने कहा, ‘‘फिल्म के एक दिसंबर को रिलीज होने की उम्मीद है, जिसे देखते हुए मैं चाहता हूं कि संजय लीला भंसाली (फिल्म के निर्माता-निर्देशक) पहले इसे हिंदुओं और साथ ही क्षत्रिय नेताओं को दिखाएं, क्योंकि लोगों को शक है कि इसमें तथ्यों को छेड़छाड़ कर पेश किया गया है।’’ दीपिका पादुकोण, रणवीर सिंह और शाहिद कपूर जैसे कलाकारों से सजी फिल्म एक दिसंबर को रिलीज होगी।

वाघेला ने कहा कि किसी को भी ‘‘सस्ता प्रचार’’ हासिल करने के लिए ऐतिहासिक तथ्यों से छेड़छाड़ कर उन्हें अपनी मर्जी के मुताबिक पेश करने की मंजूरी नहीं दी जा सकती। गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘अगर फिल्म प्री-स्क्रीनिंग के बिना रिलीज होती है तो गुजरात में हिंसक विरोध प्रदर्शन होंगे और कानून व्यवस्था नियंत्रण से बाहर जा सकती है। अगर लोगों ने कानून अपने हाथों में लिया तो उसके लिए मैं सिनेमाघर मालिकों से पहले ही माफी मांगता हूं।’’

गौरतलब है कि पिछले हफ्ते (20 अक्टूबर) पद्मावती की थीम पर बनाई गई एक रंगोली को कथित रूप से नष्ट करने पर सूरत पुलिस ने पांच लोगों को गिरफ्तार किया था। गिरफ्तार लोगों में चार करनी सेना और एक विश्व हिन्दू परिषद का सदस्य शामिल था।  पुलिस ने 16 अक्टूबर को सूरत के एक मॉल में आर्टिस्ट करन के और राहुल राज द्वारा उमरा इलाके में बनाई गई एक रंगोली को नष्ट करने पर FIR दर्ज की थी। पुलिस के पास सबूत के रूप में एक वीडियो मौजूद था, जिसमें कुछ लोग रंगोली को नष्ट करने के बाद ‘जय श्री राम’ का नारा लगा रहे थे।

इस वीडियो के आधार पर पुलिस ने इन्हें गिरफ्तार किया। इस रंगोली में अभिनेत्री दीपिका पादुकोण को रानी पद्मावती के रूप में दिखाया गया था। इस रंगोली को खराब करने पर दीपिका पादुकोण काफी नाराज हुईं थी। उन्होंने एक ट्वीट कर कहा था कि ये अब बंद होना चाहिए, सख्त कार्रवाई की जरूरत है। दीपिका ने इस ट्वीट को केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को भी टैग किया था।

देखें वीडियो ः

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App