सोनिया गांधी की बैठक पर बोले चिदंबरम, भक्त और ट्रोल बनाएंगे मजाक लेकिन हमें एक होना चाहिए

कांग्रेस के सीनियर नेता पी चिदंबरम ने सोनिया गांधी की बैठक का समर्थन करते हुए कहा कि किसी भी दूसरे अधिकार के मुकाबले आजादी को ज्यादा महत्व देने वाले लोगों को 19 विपक्षी दलों की ओर से एकजुट होने की कवायद का स्वागत करना चाहिए।

p chidambaram
पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम (फाइल फोटो)। Source- PTI

कांग्रेस के सीनियर नेता पी चिदंबरम ने सोनिया गांधी की बैठक का समर्थन करते हुए कहा कि किसी भी दूसरे अधिकार के मुकाबले आजादी को ज्यादा महत्व देने वाले लोगों को 19 विपक्षी दलों की ओर से एकजुट होने की कवायद का स्वागत करना चाहिए। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि भक्त और ट्रोल विपक्षी एकजुटता का मजाक बनाएंगे, लेकिन उन्हें मार्टिन निमोलर (जर्मन कवि) के मशहूर बोलों को याद रखना चाहिए।

चिदंबरम ने अपने ट्वीट में जर्मन कवि की बात को समझाते हुए लिखा कि विरोधी आपकी हर कोशिश का मजाक बनाएंगे, लेकिन एक दिन उन्हें भी अहसास होगा कि हम जिन लोगों की आजादी के लिए लड़ रहे थे उनमें वह भी शामिल थे। पूर्व वित्त मंत्री ने चिदंबरम ने कहा कि किसी भी दूसरे अधिकार के मुकाबले आजादी को महत्व देने वाले लोगों को 19 विपक्षी दलों की ओर से एकजुटता का संकल्प किये जाने का स्वागत करना चाहिए।

सोनिया गांधी ने बुलाई विपक्षी दलों की बैठक: कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की पहल पर देश के 19 विपक्षी दलों के नेताओं ने शुक्रवार को बैठक की थी। इस बैठक में 2024 के लोकसभा चुनाव के मद्देनजर अपनी मजबूरियों और मतभेदों को भुलाकर बीजेपी के खिलाफ एकजुट होने पर सहमति जताई गई। साथ ही सरकार को घेरने के लिए पेगासस जासूसी मामले से लेकर किसान आंदोलन तक कई अन्य मुद्दों पर चर्चा हुई थी।

यह भी पढ़ें: सोनिया गांधी की विपक्षी एकता की पहल की कपिल सिब्बल ने की तारीफ, कहा लेकिन कांग्रेस में सुधार जरूरी

शिवसेना ने भी एकजुट होने की अपील की: महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने विपक्षी दलों से अनुरोध किया कि वे जनता का भरोसा जीतें और एकजुट और मजबूत रहें। संजय राउत ने इस मामले पर प्रेस कांफ्रेंस कर बताया कि बैठक के दौरान, ठाकरे ने इस बात पर जोर दिया कि दलों को जनता का विश्वास जीतना होगा। उन्होंने बताया कि बैठक में ठाकरे ने कहा कि अभी तो विपक्षी दलों में सत्ता को लेकर कोई लालसा नहीं है। लेकिन जब सत्ता सामने होगी तब भी विपक्षी दलों पर लोगों का यह भरोसा होना चाहिए कि वे मजबूत और एकजुट रहेंगे।

कौन-कौन हुआ था बैठक में शामिल: कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी द्वारा बुलाई गई इस बैठक में NCP प्रमुख शरद पवार, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और TMC प्रमुख ममता बनर्जी, तमिलनाडु के मुख्यमंत्री और DMK नेता एमके स्टालिन, झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, महाराष्ट्र के मुख्यमत्री उद्धव ठाकरे समेत कुल 19 विपक्षी दलों के नेता शामिल हुए थे।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट