केंद्रीय मंत्री प्रताप सारंगी बोले- पीएम की घोषणा है पूरे देश को मिलेगी फ्री वैक्सीन, प्रति व्यक्ति 500 रुपए आएगा खर्च

एक रिपोर्ट के अनुसार केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने लोगों को कोरोना का टीका उपलब्ध कराने की योजना पर काम शुरू कर दिया है।

कोविड-19 कोरोना वायरस
केंद्रीय मंत्री प्रताप सारंगी। (Photo from Twitter/Pratap Sarangi)

केंद्रीय मंत्री प्रताप सारंगी ने कहा कि देश के सभी नागरिकों को कोविड-19 का टीका निशुल्क उपलब्ध कराया जाएगा। भाजपा द्वारा बिहार के लोगों को कोविड-19 का टीका निशुल्क उपलब्ध कराने की घोषणा के बाद विपक्षी दलों ने सत्तारूढ़ राजग पर महामारी को राजनीतिक लाभ के लिए इस्तेमाल करने का आरोप लगाया था क्योंकि बिहार में विधानसभा चुनाव का प्रचार जारी है।

बालासोर में तीन नवंबर को होने जा रहे उपचुनाव के लिए एक सभा को संबोधित करने के बाद सारंगी ने रविवार (25 अक्टूबर, 2020) को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घोषणा की है कि सभी लोगों को कोविड-19 का टीका निशुल्क उपलब्ध कराया जाएगा। प्रत्येक व्यक्ति के टीकाकरण पर करीब 500 रुपए खर्च होंगे।

इससे पहले दिन में ओडिशा सरकार में मंत्री आरपी स्वैन ने केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और प्रताप सांरगी पर हमला बोलते हुए कोविड-19 का टीका निशुल्क उपलब्ध कराने के संबंध में जवाब मांगा था। जिसके बाद सारंगी ने यह दावा किया है।

इधर ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट के अनुसार केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने लोगों को कोरोना का टीका उपलब्ध कराने की योजना पर काम शुरू कर दिया है। केंद्र ने इसके लिए करीब 500 अरब रुपए का बजट तय किया है।

रिपोर्ट के मुताबिक सरकार का अनुमान है कि देश के एक नागरिक को कोरोना वैक्सीन का डोज देने में 6-7 डॉलर ( करीब 500 रुपए) का खर्च आएगा। यही वजह है कि सरकार ने 130 करोड़ लोगों को कोरोना वैक्सीन देने के लिए 7 अरब डॉलर का बजट तय किया है।

बता दें कि केंद्र टीके के लिए पैसों का इंतजाम मौजूदा वित्त वर्ष के आखिर में कर देगा। इसके बाद कोरोना वैक्सीन मुहैया कराने के काम में फंड की कमी नहीं होगी। मामले में सेंटर फॉर डिजीज डायनेमिक्स, इकोनोमिक्स एंड पॉलिसी के निदेशक रामानन लक्ष्मीनारायण का कहना है कि भारत कोरोना वैक्सीन का बड़ा खरीददार है और साथ ही बड़ा विक्रेता भी है। ऐसे में उम्मीद है कि मोलभाव में यह कीमत कम भी हो सकती है। (एजेंसी इनपुट)

अपडेट