ताज़ा खबर
 

वरिष्ट पत्रकार रामबहादुर राय ने कहा- मैंने आउटलुक को कोई इंटरव्यू नहीं दिया

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केन्द्र (आइजीएनसीए) के अध्यक्ष, वरिष्ट पत्रकार रामबहादुर राय ने आउटलुक पत्रिका की संवाददाता प्रज्ञा सिंह को किसी भी तरह का साक्षात्कार देने की बात से इनकार किया है।

Author नई दिल्ली | June 9, 2016 2:43 AM
हिंदी के दिग्गज पत्रकार राम बहादुर राय

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केन्द्र (आइजीएनसीए) के अध्यक्ष, वरिष्ट पत्रकार रामबहादुर राय ने आउटलुक पत्रिका की संवाददाता प्रज्ञा सिंह को किसी भी तरह का साक्षात्कार देने की बात से इनकार किया है। उस कथित साक्षात्कार में राय के हवाले से डा. भीम राव अंबेडकर के संविधान निर्माण के बारे में प्रतिकूल टिप्पणी की गई है। राय का आरोप है कि यह उनके खिलाफ साजिश की गई है।

यह पत्रकारिता की नैतिकता के भी खिलाफ है। आइजीएनसीए के सदस्य सचिव सच्चिदानंद जोशी ने पत्रिका के प्रधान संपादक कृष्णा प्रसाद को छह जून को पत्र लिख कर इस कथित साक्षात्कार का खंडन किया है और इस गलती के लिए माफी मांगने को कहा है। राय से प्रज्ञा सिंह ने जिन अतुल कुमार सिंह के माध्यम से मुलाकात की, उन्होंने भी लिखित रूप से यह कहा है कि वह पत्रिका के संवाददाता के बजाए उनके मित्र के नाते मिली थीं। उन्होंने किसी तरह का साक्षात्कार नहीं लिया था।

HOT DEALS
  • Apple iPhone SE 32 GB Gold
    ₹ 25000 MRP ₹ 26000 -4%
    ₹0 Cashback
  • Honor 7X 64 GB Blue
    ₹ 15390 MRP ₹ 17990 -14%
    ₹0 Cashback

अतुल सिंह का कहना है कि राष्ट्रीय स्वाभिमान आंदोलन के एक कार्यक्रम के सिलसिले में वे 14 मई के एक कार्यक्रम में शामिल हुए थे। उस आंदोलन से जुड़े मुद्दों पर जानकारी के लिए उन्होंने के एन गोविंदाचार्य, राम बहादुर राय और चट्टो बाबा से प्रज्ञा सिंह को मिलाने का प्रस्ताव किया था। उसी सिलसिले में वे 27 मई को यथावत पत्रिका के दफ्तर में राय से मिलने गए थे। ज्यादा देर होने के चलते राय ने उन्हें दूसरे दिन आने को कहा। वे 28 मई को मिले। न तो उन्होंने अपनी पहचान बताई और न ही किसी तरह का साक्षात्कार लिया। उन्होंने प्रज्ञा सिंह के इस तरह के करतूत पर अफसोस जताया है।

राम बहादुर राय ने कहा कि वे इस प्रकरण से आहत हैं। उनका मानना है कि यह योजनाबद्ध तरीके से उनके खिलाफ साजिश की गई है। वे हर स्तर पर इस साजिश का मुकाबला करके साजिश करने वालों की असलियत उजागर करेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App