ताज़ा खबर
 

पीएम नरेंद्र मोदी के मंत्री का बड़ा बयान, “हमारी सरकार नहीं बना सकती राम मंदिर”

केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री शिव प्रताप शुक्ल ने कहा है कि भाजपा ने राम मंदिर के नाम पर कभी चुनाव नहीं लड़ा है।

केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री शिव प्रताप शुक्ल ने 2019 के चुनाव से पहले कहा है कि भाजपा ने राम मंदिर के नाम पर कभी चुनाव नहीं लड़ा है।

उत्तर प्रदेश के अध्योध्या में राम मंदिर को लेकर केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री शिव प्रताप शुक्ल का बड़ा बयान आया है। नवभारत टाइम्स में प्रकाशित खबर के मुताबिक, उन्होंने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने राम मंदिर के नाम पर कभी भी चुनाव नहीं लड़ा है। सरकार राम मंदिर नहीं बना सकती है। मंत्री की मानें, तो भगवान राम हमारे साथ रहे हैं। मंदिर बनाने के लिए कोर्ट और आपसी समझौते से कोई फैसला निकलेगा, तब जाकर राम मंदिर बनेगा।

बुधवार को शिव प्रताप शुक्ल उत्तर प्रदेश के बस्ती आए हुए थे। मुड़घाट पर उन्होंने इस बारे में कहा कि विकास दर हमेशा बढ़ती और घटती रहती है। देश में यह पहली दफा नहीं हुआ है। वस्तु और सेवा कर (जीएसटी) लागू हुए तीन महीने हुए हैं, जिसके आधार पर धीरे-धीरे देश में बदलाव हो रहा है। अब पूरा विश्व भी भारत के उस फैसले का लोहा मान रहा है।

HOT DEALS
  • Nokia 1 | Blue | 8GB
    ₹ 5199 MRP ₹ 5818 -11%
    ₹624 Cashback
  • Moto Z2 Play 64 GB Lunar Grey
    ₹ 14999 MRP ₹ 29499 -49%
    ₹2300 Cashback

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने हाल में अयोध्या के सरयू तट पर भगवान राम की 108 फीट ऊंची भव्य प्रतिमा स्थापित कराने का एलान किया है। हालांकि, अभी इसके लिए राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण (एनजीटी) से अनुमति मिलना बाकी है। मंजूरी मिलते ही, इसका काम शुरू कर दिया जाएगा। राज्य के पर्यटन विभाग ने भी राज्यपाल को इस मामले से जुड़ी एक प्रेजेंटेशन में इस बाबत सूचना दी है।

वहीं, फैजाबाद में एक अन्य कार्यक्रम में उन्होंने डीजल-पेट्रोल को जीएसटी के दायरे में लाने को लेकर सवाल किया गया, तो उन्होंने साफ किया कि अभी इसके लिए कोई योजना नहीं है। केंद्र सरकार जीएसटी को लेकर संवेदनशील है। सरकार हर वह उपाय कर रही है, जिससे देश के उद्यमी और व्यवसायी आसान ढंग से इस्तेमाल कर सकें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App