scorecardresearch

सीएम योगी की तारीफ करने वाले ओपी राजभर से हुआ सवाल- कौन सा मंत्रालय ले रहे हैं? हंसकर दिया ये जवाब

यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ से मुलाकात के बाद ओपी राजभर उनकी खूब तारीफें करते नजर आ रहे हैं। जब राजभर से पूछा गया कि कौन सा मंत्रालय मिल रहा है तो उन्होंने जवाब दिया कि बस यही पत्रकार आयोग का मंत्रालय मिलने जा रहा है।

सीएम योगी की तारीफ करने वाले ओपी राजभर से हुआ सवाल- कौन सा मंत्रालय ले रहे हैं? हंसकर दिया ये जवाब
ओपी राजभर (Photo Credit- ANI)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात के बाद सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर काफी खुश नजर आ रहे हैं। मुलाकात के बाद जब उनसे सवाल किया गया कि कौन सा मंत्रालय मिल रहा है तो, उन्होंने जवाब दिया कि बस यही पत्रकार आयोग का मंत्रालय मिलने जा रहा है। इतना ही नहीं राजभर आजकल सीएम योगी की खूब तारीफें करते भी नजर आ रहे हैं।

सुभासपा अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त करते हुए कहा, “उन्होंने (मुख्यमंत्री) जो लालबाग चौराहे का नाम राजभर महाराजा सुहेलदेव रखा है उसके लिए उनको बधाई देता हूं। पहले जो भी सरकार रही हो, कांग्रेस, बसपा, सपा, जनता दल जिसकी भी सरकार रही। किसी ने भी महाराजा सुहेलदेव के बारे में नहीं सोचा, लेकिन आज महाराजा सुहेलदेव जी के नाम पर ट्रेन, महाराजा सुहेलदेव जी के नाम पर ट्रस्ट, उनके नाम पर मूर्ति लगाने की तैयारी और उनके इतिहास को उजागर करने का काम हो रहा है।”

वहीं, समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन तोड़ने के बाद से ओपी राजभर सपा और अखिलेश यादव को लेकर खूब बयानबाजियां कर रहे हैं और तीखे हमले करते दिख रहे हैं। हाल ही में यूपी की सरकार के खिलाफ सपा ने मार्च निकाला था, जिसे लेकर ओपी राजभर ने समाजवादी पार्टी को ड्रामा पार्टी करार दिया था।

उन्होंने कहा, “जब अखिलेश यादव सरकार में थे, तब उन्होंने इन मुद्दों को लेकर अमल किया, जिन मुद्दों को लेकर अब वो तख्ती लेकर निकल रहे हैं। जब उनके पिता जी रक्षा मंत्री थे, तब 17 जातियों को अनुसूचित जातियों में शामिल करने का मामला दिल्ली की पार्लियामेंट में पास क्यों नहीं कराया। यह सब ड्रामा है। वोट लेने के लिए वो शिगूफा छोड़ रहे।”

सोमवार (19 सितंबर) को अखिलेश यादव के नेतृत्व में समाजवादी पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने योगी सरकार के खिलाफ सपा मुख्यालय से यूपी विधानसभा तक मार्च निकाला। हालांकि, पुलिस ने उनका यह मार्च रोक दिया था। इस वजह से सपा प्रमुख पार्टी नेताओं के साथ धरने पर बैठ गए।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 24-09-2022 at 11:51:54 pm
अपडेट