scorecardresearch

हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट की दिल्ली में फिर शुरू होगी बुकिंग, जानें- कैसे मंगा सकेंगे

दिल्ली में एचएसआरपी और कलर कोडित स्टिकर के लिए ऑनलाइन बुकिंग 1 नवंबर, 2020 से फिर से शुरू होगी। राज्य सरकार ने ऑनलाइन बुकिंग और प्लेटों के समय पर तैयार नहीं होने के कारण प्रक्रिया को अस्थाई रूप से रोक दिया था।

HSRP,Colour Coded Stickers,High Security Number Plates,Delhi,Transport and Road Safety, new-delhi-city-common-man-issues,news,state,High security registration plate, Delhi High security number plate,jansatta
हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट के लिए ऑनलाइन बुकिंग 1 नवंबर, 2020 से फिर से शुरू होगी। (file)
देश के कई राज्यों ने हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट (HSRP) को अनिवार्य कर दिया है। इन राज्यों में देश की राजधानी दिल्ली भी शामिल है। दिल्ली में एचएसआरपी और कलर कोडित स्टिकर के लिए ऑनलाइन बुकिंग 1 नवंबर, 2020 से फिर से शुरू होगी। राज्य सरकार ने ऑनलाइन बुकिंग और प्लेटों के समय पर तैयार नहीं होने के कारण प्रक्रिया को अस्थाई रूप से रोक दिया था।

दिल्ली के परिवहन मंत्री, कैलाश गहलोत ने भारतीय ऑटोमोबाइल निर्माता (SIAM) के प्रतिनिधियों से मुलाकात की है। इसको लेकर एक बैठक भी बुलाई गई है। दिल्ली सचिवालय में बुलाई गई इस बैठक में एक नवंबर से एचएसआरपी के लिए बुकिंग शुरू किए जाने का फैसला हुआ। इसके अलावा सरकार ने नंबर प्लेट लगवाने के सेंटर भी 150 से बढ़ाकर 650 कर दिये हैं। इसके अलावा दिल्ली सरकार इन प्लेट की एक नवंबर से होम डिलीवरी शुरू करने की योजना बना रही है।

सरकार ने यह भी कहा है कि हर चरण में, ग्राहक को एसएमएस के माध्यम से सूचित किया जाएगा और हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट और कलर कोडित स्टिकर की होम डिलीवरी का विकल्प प्रदान किया जाएगा। इसके अलावा परिवहन मंत्रालय ने यह भी निर्देश दिया गया है कि ग्राहकों को रियल टाइम जानकारी की सुविधा भी जल्द उपलब्ध कराई जाए। विभाग ने एचएसआरपी की होम डिलीवरी के लिए खाका तैयार कर लिया है।

एचएसआरपी के लिए जैसे ही वाहन मालिक ऑनलाइन आवेदन करेगा, उसे एसएमएस के जरिए बताया जाएगा कि कौन कर्मचारी घर पर नंबर प्लेट लगाने के लिए आएगा। इसके अलावा आवेदक को इसकी भी जानकारी दी जाएगी कि कंपनी का कर्मचारी अभी कहां है और कब तक उनके घर पहुंचेगा।

ऑनलाइन आवेदन अब बेहद आसान कर दिया गया है। इसके लिए ऑनलाइन पोर्टल पर अब किसी भी तरह के दस्तावेज को अपलोड करने की जरूरत नहीं है। पोर्टल से रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट (आरसी) और आइडी प्रूफ की सॉफ्ट कॉपी को अपलोड करने की शर्त को हटा दिया गया है। अब एचएसआरपी और कलर कोडेड स्टिकर के लिए ऑनलाइन आवेदन करने पर आपको केवल गाड़ी का इंजन नंबर और चेसिस नंबर भरना होगा।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.