ताज़ा खबर
 

सिकंदराबाद: दलित महिला ने ठुकराया शादी का प्रस्ताव तो प्रेमी ने जिंदा जलाया, हुई मौत

पुलिस अधिकारी ने बताया कि महिला अनुसूचित जाति से थी। वह एल्यूमीनियम विनिर्माण इकाई में बतौर अकाउंटेंट काम करती थी।

Author हैदराबाद | Updated: December 22, 2017 8:06 PM
Dead Husband, Dead Husband in court, Dead Husband news, Dead Husband in banda, A Woman, Confronted with Her Dead Husband, Dead Husband in UP Banda, A Woman in District Court, state newsइस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है। (Source: Express Archives)

सिकंदराबाद में उस 25 वर्षीय दलित महिला की शुक्रवार को मौत हो गई, जिसे गुरुवार शाम एक व्यक्ति ने सरेआम आग लगा दी थी। महिला को आग लगाने वाला व्यक्ति उसके साथ ही काम करता था और उसके प्रेम निवेदन को महिला ने अस्वीकार कर दिया था, जिसकी वजह से कथित तौर पर उसने ऐसा किया। पुलिस उपायुक्त (उत्तरी क्षेत्र) बी सुमती ने बताया कि महिला कार्यालय से लौट रही थी। इसी दौरान लालगुडा इलाके में 28 वर्षीय साई कार्तिक ने उस पर पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी। सुमती ने संवाददाता सम्मेलन के दौरान कहा कि आरोपी को शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया गया और उस पर हत्या का मामला दर्ज किया गया है। अधिकारी ने बताया कि महिला का सिकंदराबाद के गांधी अस्पताल में उपचार चल रहा था। उसकी शुक्रवार सुबह करीब साढ़े सात बजे मौत हो गई।

उन्होंने बताया कि महिला अनुसूचित जाति से थी। वह एल्यूमीनियम विनिर्माण इकाई में बतौर अकाउंटेंट काम करती थी। आरोपी ने भी वहां एक साल काम किया। हालांकि प्रबंधन ने उसके व्यवहार को सही नहीं पाया और उसे नौकरी से बर्खास्त कर दिया। उपायुक्त ने बताया, ‘‘कार्तिक केवल सातवीं कक्षा तक पढ़ा था। वह और महिला एक-दूसरे को जानते थे। जब आरोपी ने उसे शादी का प्रस्ताव दिया तो उसने इनकार कर दिया।’’ अधिकारी ने कहा, ‘‘कल रात जब महिला कार्यालय से वापस लौट रही थी तो उसने मोटरसाइकिल से उसका पीछा किया और शादी का प्रस्ताव अस्वीकार करने को लेकर दोनों के बीच बहस हो गई।’’

उन्होंने बताया, ‘‘बहस के दौरान उसने महिला पर पेट्रोल डाला और आग लगा दी।’’ पास से गुजर रहे कुछ लोग महिला की चीख सुनकर उसकी मदद के लिए पहुंचे और आग बुझाई। महिला 64 प्रतिशत तक जल गई थी। उसे सिकंदराबाद के गांधी अस्पताल ले जाया गया। आरोपी के खिलाफ संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। उपायुक्त ने कहा कि वे मामले की जांच के लिए पीड़ित के फोन से मिले संदेश और कॉल रिकॉर्ड का विश्लेषण कर रहे हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 धार्मिक स्थलों पर लगे लाउडस्पीकरों से ध्वनि प्रदूषण पर हाई कोर्ट सख्त, यूपी की योगी सरकार को लगाई फटकार
2 मुस्लिम धर्मगुरु का फरमान- महिलाओं को न छुएं डॉक्टर, गैर इस्लामिक रेड क्रॉस सिंबल से भी करें परहेज
3 आदर्श हाउसिंग घोटाला: अशोक चव्हाण के खिलाफ नहीं चलेगा मुकदमा, उच्च न्यायालय ने खारिज की राज्यपाल की मंजूरी
यह पढ़ा क्या?
X