ताज़ा खबर
 

Bhopal: नशे में होने के शक में युवक को पकड़ा, हिरासत में हो गई मौत, परिजनों का आरोप- पीटकर मार डाला, चेन भी चुरा ली

भोपाल में 25 वर्षीय युवक की पुलिस हिरासत में मौत का मामला सामना आया है। इस मामले में बैरागढ़ थाना प्रभारी सहित पांच पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है।

Author भोपाल | June 19, 2019 6:16 PM
प्रतीकात्मक तस्वीर फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में 25 वर्षीय शिवम मिश्रा की बुधवार (19 जून) को पुलिस हिरासत में मौत हो गई। उसके परिजनों का आरोप है कि युवक की मौत पुलिसकर्मियों द्वारा पीटे जाने की वजह से हुई। इस मामले में बैरागढ़ थाना प्रभारी सहित पांच पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। शिवम एवं उसके दोस्त गोविंद शर्मा की कार मंगलवार-बुधवार की मध्य रात्रि को करीब एक बजे यहां बैरागढ़ इलाके में बीआरटी कॉरिडोर से टकरा गई थी।

शराब के नशे में था शिवमः भोपाल रेंज के पुलिस अधिकारी योगेश देशमुख ने ‘भाषा’ को बताया कि हादसे की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और शिवम तथा गोविंद को मेडिकल जांच के लिए अस्पताल ले गई। जांच में पाया गया कि शिवम शराब के नशे में था।उन्होंने कहा कि इसके बाद पुलिसकर्मी दोनों को बैरागढ़ पुलिस थाने ले आए, जहां शिवम की तबीयत बिगड़ने लगी। देशमुख ने बताया कि शिवम की हालत देख कर पुलिसकर्मी उसे अस्पताल ले गए, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत लाया हुआ घोषित कर दिया।

National Hindi News, 19 June 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

मृतकों ने लगाया पुलिसकर्मियों पर आरोपः पुलिस अधिकारी योगेश देशमुख ने कहा, ‘मृतक के परिजन का आरोप है कि शिवम की मौत पुलिसकमिर्यों की पिटाई से हुई है। हालांकि, इन आरोपों की अब तक पुष्टि नहीं हुई है। लेकिन, संबंधित पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की गई है, क्योंकि शिवम की मौत पुलिस हिरासत में हुई है।’ देशमुख ने बताया, ‘इस मामले में ड्यूटी में लापरवाही बरतने के लिए बैरागढ़ थाना प्रभारी अजय मिश्रा, एक पुलिस उपनिरीक्षक, एक हवलदार एवं दो कॉन्स्टेबलों को निलंबित कर दिया गया है। मामले की विस्तृत जांच जारी है।’ इसी बीच, शिवम के दोस्त गोविंद शर्मा ने संवाददाताओं को बताया, ‘‘पुलिसकर्मियों ने मुझे एवं शिवम को पीटा। हमारी कार बीआरटी रेंलिंग पर चढ़ गई थी। इसमें कोई घायल नहीं हुआ था, केवल कार को नुकसान पहुंचा था।’

मदद की बजाय बुरी तरह पीटने लगे पुलिसकर्मीः अस्पताल में भर्ती शर्मा ने कहा ‘हमने पुलिस को बताया था कि हमें चिकित्सा सहायता की जरुरत है लेकिन हमारी मदद करने के बजाय वह (पुलिसकर्मी) हमें बुरी तरह पीटने लगे।’ शिवम के मामा संजय भार्गव ने पीटीआई को बताया कि शिवम अपने दोस्त के साथ बैरागढ़ के एक होटल में खाना खाने जा रहा था तभी उसकी कार बीआरटी रेलिंग से टकरा गई। पुलिस उसे और उसके दोस्त को बैरागढ़ थाने ले गई जहां पुलिस वालों ने उन्हें बुरी तरह पीटा। भार्गव ने आरोप लगाया कि शिवम ने लगभग 15 तोले की सोने की चेन पहनी हुई थी, जो गायब है। उन्होंने कहा कि पुलिस ने परिवार वालों को शिवम की मौत की सूचना नहीं दी और शव को हमीदिया अस्पताल भेज दिया।भार्गव ने बताया कि शिवम के पिता मप्र पुलिस की साइबर सेल में हेड क्लर्क हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App