ताज़ा खबर
 

करोड़ों की ठगी कर ‘बंटी-बबली’ फरार

सेक्टर- 22 के चौड़ा गांव में देवदत्त शर्मा अपने परिवार के साथ रहते हैं। उन्होंने अपने यहां कई कमरे किराए पर दे रखे हैं। 5 जुलाई, 2017 को मूलरूप से इलाहाबाद का बताकर एक दंपति ने कमरा किराए पर लिया। पति ने अपना नाम अनुज श्रीवास्तव और पत्नी ने राखी नाम बताया था।
इस दंपति ने मोबाइल और इलेक्ट्रॉनिक सामान सस्ते में दिलाने के नाम पर यह ठगी की है।

बंटी और बबली फिल्म की तर्ज पर एक दंपति सैकड़ों लोगों से करोड़ों रुपए की ठगी कर फरार हो गया। इस दंपति ने मोबाइल और इलेक्ट्रॉनिक सामान सस्ते में दिलाने के नाम पर यह ठगी की है। ये जानकारियां नोएडा पुलिस ने दीं। इस बाबत मामला दर्ज कर लिया गया है। नोएडा सेक्टर 24 में दर्ज मामले के मुताबिक नोएडा के सेक्टर- 22 स्थित चौड़ा गांव में आरोपी मकान मालिक के भतीजे से करीब 5.50 लाख रुपए ठग लिए। आसपास रहने वाले दर्जनों लोगों से भी सस्ता सामान दिलाने का झांसा देकर लाखों की ठगी की है। मकान मालिक ने आरोपी दंपति के खिलाफ सेक्टर- 24 के थाने में मामला दर्ज कराया है। पता चला है कि आरोपी दंपति ने दिल्ली के स्वरूप नगर में भी इसी तरह से 60 लाख रुपए को चपत लगाई है। वहां से लोगान कार लेकर दंपति ग्रेटर नोएडा आया था। आरोपी दंपति ने ग्रेटर नोएडा में किराए के फ्लैट को अपना बताकर बेचने समेत सस्ता इलेक्ट्रॉनिक सामान दिलाने के नाम पर करीब 30-40 लाख रुपए का चूना लगा चुका है। बुधवार को दिल्ली के स्वरूप नगर थाना पुलिस ने ग्रेटर नोएडा की एक सोसायटी में खड़ी और दिल्ली से चुराई लोगान कार जब्त कर ली है।

सेक्टर- 22 के चौड़ा गांव में देवदत्त शर्मा अपने परिवार के साथ रहते हैं। उन्होंने अपने यहां कई कमरे किराए पर दे रखे हैं। 5 जुलाई, 2017 को मूलरूप से इलाहाबाद का बताकर एक दंपति ने कमरा किराए पर लिया। पति ने अपना नाम अनुज श्रीवास्तव और पत्नी ने राखी नाम बताया था। उनके दो बच्चे भी थे। अनुज ने बताया कि वह इलेक्ट्रॉनिक कंपनी में काम करता है। जहां से वह बहुत कम कीमत में अच्छे सामान दिला सकता है। अनुज ने 60 हजार रुपए कीमत का एप्पल का आइफोन महज 30 हजार रुपए में देकर आसपास के लोगों का विश्वास जीता। एक पड़ोसी को 16 हजार रुपए का फ्रिज सात-आठ हजार रुपए में दिला दिया। इससे लोगों का भरोसा बढ़ने लगा।

आरोपी की पत्नी राखी ने भी कभी अपने बच्चों का जन्मदिन या शादी की सालगिरह की पार्टी देकर लोगों से संपर्क बढ़ाया। इस तरह से सस्ते में सामान लाने के लिए काफी संख्या में लोगों ने करीब 25 लाख रुपए तक उन्हें दे दिए। यह परिवार 25 जनवरी की रात इलाहाबाद में मां की तबीयत खराब बताकर चला गया था। तब से अब तक दंपति वापस नहीं लौटा है। मकान मालिक का आरोप है कि दंपति ने सस्ते में सामान दिलाने का झांसा देकर किराएदारों से करीब 20 लाख रुपए ले लिए। उनके भतीजे को भी झांसे में लेकर 5.50 लाख रुपए ले गए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.