ताज़ा खबर
 

पति की ‘गलती से’ हाइवे पर छूट गई महिला, 6 वहश‍ियों ने किया गैंगरेप

ओडिशा के अनुगुल जिले में एक 30 वर्षीय महिला के साथ छह लोगों द्वारा गैंगरेप का मामला सामने आया है। पीड़ित महिला के पति का कहना है कि सफर के दौरान आधी रात को वह गलती से बीच राह पर छूट गई, जिसके बाद आरोपियों ने वारदात को अंजाम दिया।

Author नई दिल्ली | May 7, 2018 11:59 AM
प्रतीकात्मक तस्वीर।

ओडिशा के अनुगुल जिले में एक 30 वर्षीय महिला के साथ छह लोगों द्वारा गैंगरेप का मामला सामने आया है। पीड़ित महिला के पति का कहना है कि सफर के दौरान आधी रात को वह गलती से बीच राह पर छूट गई, जिसके बाद आरोपियों ने वारदात को अंजाम दिया। पीड़ित महिला रविवार शाम जगतसिंहपुर जिले में मिली है। वह गुरुवार से ही लापता थी। इससे पहल, आशंका जताई जा रही थी कि उसकी मौत हो गई है। अनुगुल के पुलिस सूत्रों के मुताबिक, पीड़ित महिला रविवार को जगतसिंहपुर स्थित अपने रिश्तेदारों के साथ मिली। अनुगुल और जगतसिंहपुर के बीच की दूरी करीब 150 किमी है। पुलिस इस बारे में पता लगा रही है कि वारदात के बाद महिला वहां कैसे पहुंची।

जिले के एक वरिष्ठ पुलिस अफसर ने बताया, ‘हम अभी भी पीड़ित का बयान नहीं ले पाए हैं।’ पुलिस के मुताबिक, संबलपुर जिले के रहने वाले पति-पत्नी और उनकी बेटी कटक जा रहे थे। पति गाड़ी चला रहा था, जबकि छह साल की बेटी उसके बगल में बैठी हुई थी। पत्नी बैकसीट पर थी। पुलिस अफसर ने बताया, ‘रात करीब 10 बजे के करीब, अनुगुल के नकची गांव के नजदीक पत्नी ने कार रोकने के लिए कहा। यहां वह टॉयलेट के लिए गई। वह वापस आई और कार की पिछली सीट से पानी की बोतल निकाली ताकि हाथ धो सके। बोतल लेने के बाद उसने दरवाजा बंद कर दिया। पति ने सोचा कि महिला कार में बैठ गई है, इसलिए उसने कार बढ़ा दी।’

HOT DEALS
  • Honor 7X Blue 64GB memory
    ₹ 16699 MRP ₹ 16999 -2%
    ₹0 Cashback
  • Jivi Energy E12 8 GB (White)
    ₹ 2799 MRP ₹ 4899 -43%
    ₹0 Cashback

अफसर ने बताया, ’17 किमी जाने के बाद, पति ने बेटी के लिए चॉकलेट्स खरीदने के लिए बोइंदा में कार रोकी। उसे कथित तौर पर तब तक भी पता नहीं था कि उसकी पत्नी पीछे छूट गई है। वापस लौटने के बाद उसने देखा कि पिछली सीट पर कोई नहीं बैठा है। हालांकि, उसे लगा कि पत्नी कुछ खरीदने के लिए उतरी है। कुछ देर इंतजार करने के बाद उसे चिंता हुई और उस बाजार में अपनी पत्नी को ढूंढने लगा। जब वह नहीं मिली तो उसने नकची लौटने का फैसला किया, जहां उसकी पत्नी से आखिरी बार बात हुई थी। जब उसे अपनी पत्नी नहीं मिली तो पति ने नकची से बोइंदा के बीच कई बार चक्कर लगाए। इसके बाद उसने पुलिस को सूचना दी।’
जानकारी मिलने के बाद पुलिस भी ऐक्शन में आई, लेकिन तीन दिन तक पत्नी को ढूंढा नहीं जा सका। फिलहाल यह साफ नहीं हो सका है कि पीड़िता या जगतसिंहपुर के रिश्तेदारों ने पति या पुलिस से संपर्क क्यों नहीं किया? इस बीच, अंगुल पुलिस को ऐसे प्रत्यक्षदर्शियों के बारे में पता चला है, जिन्होंने दावा किया है कि उन्होंने नैशनल हाइवे-55 पर देर रात अकेले एक महिला को देखा। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, छह लोगों ने उस महिला को एक ऑटोरिक्शा में बिठा लिया। पुलिस ने वारदात में संलिप्तता के शक में चार लोगों को हिरासत में लिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App